मुख्यपृष्ठनए समाचारबारूद के ढेर पर भिवंडी! ... खतरनाक केमिकल गोदामों का फैला है...

बारूद के ढेर पर भिवंडी! … खतरनाक केमिकल गोदामों का फैला है मकड़जाल

डोंबिवली विस्फोट कांड की हो सकती है पुनरावृत्ति 
केमिकल व्यवसाइयों को मिलता है पुलिस का संरक्षण
सामना संवाददाता / भिवंडी
केमिकल गोदामों के कारण भिवंडी विस्फोट के मुहाने पर खड़ी है। यहां कभी भी डोंबिवली विस्फोट कांड की पुनरावृत्ति हो सकती है, क्योंकि यहां के ट्रांसपोर्ट बाहुल्य इलाकों में बने गोदामों में बड़े पैमाने पर अवैध तरीके से ज्वलनशील केमिकल्स का भंडार पुलिस के आशीर्वाद व प्रशासन की उदासीनता के कारण जारी है। यहां से विस्थापित होने के आदेश के बावजूद केमिकल व्यवसायी यहां डटे हैं।
केमिकल के कारण लगती है आग
मालूम हो कि भिवंडी के ट्रांसपोर्ट बाहुल्य अंजुरफाटा, रहनाल, पूर्णा, काल्हेर, दपोड़ा में बड़े पैमाने पर ट्रांसपोर्ट गोदाम हैं। इन्हीं गोदामों में केमिकल के गोदाम व वेयरहाउस हैं जिनमें बड़े पैमाने पर ज्वलनशील केमिकल संचित हैं। सूत्रों का कहना है कि उक्त इलाके में ऐसे-ऐसे खतरनाक केमिकल संचित हैं जो एक-दूसरे के संपर्क में आने के बाद विस्फोटक बन जाते हैं। इतना ही नहीं हवा के संपर्क में आते ही ये केमिकल विस्फोट करने लगते हैं। इस कारण इस इलाके में आए दिन आग लगने व विस्फोट होने की घटनाएं घटती रहती हैं।
आग बुझाने में लगते हैं हफ्तों
सूत्र बताते हैं कि इन खतरनाक केमिकल गोदामों में यदि आग लगती है तो केमिकल के ड्रम हवा में १०० फिट ऊपर उड़कर विस्फोट करते हैं, जिसके कारण इलाके को खाली करने के बाद भी दर्जनों गोदाम आग की चपेट में आ जाते हैं। केमिकल के कारण उक्त इलाके में यदि आग लग जाती है तो कड़ी मशक्कत के बाद भी उसे बुझाने में कई दिन लग जाते हैं।
केमिकल व्यवसाईयों को प्राप्त है पुलिस का संरक्षण
गौरतलब है कि कई वर्ष पूर्व तत्कालीन जिलाधिकारी ने केमिकल के कारण बढ़ती आगजनी के कारण वाडा इलाके में केमिकल जोन बना कर वहां पर केमिकल गोदामों को विस्थापित करने का आदेश दिया था। कई बार इन केमिकल गोदाम वालों पर तहसीलदार व उपविभागीय अधिकारी द्वारा नोटिस देने के साथ गोदामों को सील करने की भी कार्रवाई की गई। इसके बावजूद केमिकल व्यवसायी यहां से टस से मस नहीं हुए और आज भी पुलिस के आशीर्वाद व प्रशासन की उदासीनता के कारण खुलेआम खतरनाक केमिकल का भंड़रण इन गोदामों में कर रहे हैं।
…तो पूरी भिवंडी हो सकती है बर्बाद
केमिकल व्यवसाईयों की ऊंंची पहुंच के कारण उन पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। इन्हें गोदाम मालिक व ग्रामपंचायत का भी पूरा सहयोग प्राप्त रहता है। सूत्रों की मानें तो भिवंडी में कभी भी भयानक विस्फोट की घटना घट सकती है। बताते हैं कि भिवंडी में खतरनाक व ज्वलनशील केमिकल के भंडारण के कारण भिवंडी बारूद के ढेर पर खड़ा है। यदि यहां विस्फोट घटना घटी तो पूरी भिवंडी बर्बाद हो सकती है।

अन्य समाचार