मुख्यपृष्ठनए समाचारनेरुल में बड़ा हादसा : भहरा गई छत! एक की मौत, सात...

नेरुल में बड़ा हादसा : भहरा गई छत! एक की मौत, सात घायल

सामना संवाददाता / नई मुंबई
नेरुल के सेक्टर-१७ स्थित एक आठ मंजिली इमारत की छत के एक के ऊपर एक गिरने से एक शख्स की मौत हो गई, जबकि इस हादसे में सात लोग घायल हो गए हैं। लगभग २८ वर्ष पुरानी इस इमारत का स्ट्रक्चर ऑडिट करने का नोटिस दिया गया था। इसके बावजूद सोसायटी ने नजरअंदाज कर दिया। इस मामले में जांच कमिटी गठित की गई है। जांच के अनुसार कार्रवाई करने की जानकारी मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर ने दी है।
नेरुल में स्थित इस इमारत का नाम जिम्मी पार्क है। इस हादसे में घायल लोगों में निशा धर्माणी (४८), रिया धर्माणी (२०), सोनाली गोडबोले (२९), अदित्यराज गोडबोले (१५), सौमित्र गोडबोले (५०), ललिता त्यागराजन (८०), सुब्रह्मण्यम त्यागराजन (८४) घायल हो गए हैं जबकि व्यंकटेश नाडर (२९) के नाम शामिल हैं। इस इमारत की पहली से लेकर छठी मंजिल तक की छत शनिवार दोपहर अचानक गिर गई। इस घटना की जानकारी होते ही नई मुंबई मनपा अधिकारी, अग्निशमन दल और पुलिस मौके पर पहुंचकर बचाव कार्य में जुट गई। इस दौरान मलबे में दबे और अंदर फंसे हुए लोगों को बाहर निकालकर नेरुल के डीवाई पाटील अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस हादसे में व्यंकटेश नामक व्यक्ति की मौत हो गई।
रिपोर्ट के अनुसार होगी कार्रवाई
हादसे की खबर मिलते ही मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर ने घटनास्थल का दौरा कर जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने बताया कि इस इमारत को १९९४ में ओसी दी गई थी। पिछले वर्ष इमारत की छत का प्लास्टर गिरा था। उस समय ही मनपा की तरफ से स्ट्रक्चर ऑडिट करने का नोटिस दिया गया था। लेकिन सोसायटी की तरफ से नजरअंदाज किया जा रहा था। उन्होंने बताया कि छठी मंजिल पर टाइल्स लगाने का काम शुरू था। इसी दौरान कुछ गड़बड़ी होने से यह छत गिर गई। इस मामले में जांच कमिटी बनाई गई है। कमिटी की रिपोर्ट के अनुसार दोषी लोगों पर कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही शहर की अन्य पुरानी इमारतों को स्ट्रक्चर ऑडिट कराने की नोटिस दी गई है, उसकी भी जांच की जाएगी।
मनपा ने की रहने की व्यवस्था
आयुक्त अभिजीत बांगर ने बताया कि इस सोसायटी के लोगों को नई मुंबई मनपा की तरफ से अस्थायी तौर पर रहने की व्यवस्था नेरुल के अहिल्याबाई होलकर समाज मंदिर और अन्य भवनों में की गई है।

 

अन्य समाचार