मुख्यपृष्ठअपराधबस्ती में दरिंदगी! ...पति को नशे में धुत करके पत्नी से किया...

बस्ती में दरिंदगी! …पति को नशे में धुत करके पत्नी से किया रात भर सामूहिक बलात्कार

– होश में आने के बाद दंपति ने जहर खा कर दी जान, मरने से पहले बने वीडियो ने खोला राज!

मनोज श्रीवास्तव / लखनऊ

बस्ती की नगर पंचायत रुधौली क्षेत्र में बिचौलिए के दबाव में जहर खाने वाले दंपति में पत्नी ने भी शुक्रवार को गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में दम तोड़ दिया। पति की बृहस्पतिवार को ही मौत हो गई थी। महिला की मौत के बाद एक वीडियो सामने आया तो पुलिस के होश फाख्ता हो गए। पुलिस ने आनन-फानन में बिचौलिए समेत दो पर सामूहिक दुष्कर्म का केस दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी कर ली। पुलिस दोनों से दुष्कर्म के अलावा जमीन और बिचौलिए की रकम के संबंध में पूछताछ कर रही है।

वीडियो में पति-पत्नी ने उन बिचौलियों पर सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगाया है, जिन दोनों ने उसकी जमीन बेचवा कर रकम हड़प ली है। जहर खाने के बाद वीडियो में पति बता रहा है कि आदर्श सिंह और त्रिलोकी ने उसकी पत्नी के साथ रात भर दुष्कर्म किया और उसका वीडियो भी बनाया। इससे आहत होकर वह दोनों जहरीला पदार्थ खाकर जान दे रहे हैं। यही बात पत्नी ने भी वीडियो में कही है। इसके बाद मृतक के भाई ने दोनों आरोपियों के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने केस दर्ज कर शुक्रवार को दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

बृहस्पतिवार सुबह दंपति ने कीटनाशक खा लिया था। दोनों को मौत का अंदेशा हुआ तो दरिंदों की कारस्तानी बयां करता वीडियो अपने मोबाइल फोन में बना लिया। वीडियो बनाते समय उसका 11 साल का बेटा पहुंच गया तो मां ने कहा कि जब मैं मर जाऊंगी तो यह बात पुलिस को बता देना। कुछ ही देर बाद दोनों की हालत बिगड़ने लगी तो बेटे ने शोर मचाकर परिवार के अन्य लोगों को बुला लिया। परिवार के लोग दोनों को सीएचसी ले गए। वहां से जिला अस्पताल रेफर होने के बाद इलाज के दौरान पति ने दम तोड़ दिया। पत्नी को डाॅक्टरों ने गोरखपुर मेडिकल काॅलेज रेफर कर दिया। शुक्रवार को उसने भी दम तोड़ दिया।

मां की मौत की जानकारी होते ही बेटे ने बताया कि मम्मी के साथ गलत काम हुआ। उनके मोबाइल फोन में वीडियो है, जिसमें मम्मी-पापा खुद यह बात बता रहे हैं। वह मोबाइल गोरखपुर में इलाज कराने के दौरान परिवारीजनों के पास था। दंपति के रिश्तेदारों ने मोबाइल फोन खोला तो वीडियो देख उनकी आंखें फटी रह गईं। वीडियो में दंपति रात भर हुई दरिंदगी की दास्तां बयां करते नजर आ रहे थे। इसी आधार पर मृतक के भाई ने थाने में तहरीर दी, वहीं देर रात तक शवों के अंतिम संस्कार के लिए ऊहापोह की स्थिति बनी रही। पुलिस के दबाव के बावजूद परिवारवालों ने रात में अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया। स्थानीयों के अनुसार, बुधवार की रात पति नशे में धुत था। मगर दरिंदे नशे में भी सजग थे और बारी-बारी से उसकी पत्नी को हवस का शिकार बनाते गए। पति के ऊपर से जब शराब की खुमारी उतरी तो उसे एहसास हुआ कि जीवन संगिनी के साथ बहुत गलत हो गया।

अन्य समाचार