मुख्यपृष्ठनए समाचारविपक्ष के खिलाफ जारी है भाजपा और ईडी की चाल!

विपक्ष के खिलाफ जारी है भाजपा और ईडी की चाल!

सामना संवाददाता / नई दिल्ली

इन दिनों प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) एक्शन मोड में दिखाई दे रही है। लेकिन ईडी का यह ताबड़तोड़ एक्शन केवल विपक्ष के खिलाफ ही होती दिखाई दे रही है। विपक्षी दलों के खिलाफ ईडी के एक्शन से यह बात तो साफ है कि वेंâद्रीय एजेंसी भाजपा के इशारे पर नाच रही है। चूंकि यह चुनावी साल है ऐसे में भाजपा अपने फायदे के लिए ईडी का इस्तेमाल कर रही है। जहां एक ओर ईडी के एक्शन को लेकर विपक्षी राजनीतिक पार्टियां वेंâद्र की भाजपा सरकार पर हमलावर हैं। वहीं दूसरी ओर ईडी के एक्शन को लेकर कई राज्यों में हड़कंप मचा हुआ है। विपक्ष द्वारा ईडी की ताबड़तोड कार्रवाई के लिए भाजपा पर कई आरोप भी लग रहे हैं। अरविंद केजरीवाल ने तो यहां तक कह दिया है कि भाजपा उन्हें चुनाव प्रचार करने से रोकने के लिए जेल भिजवाना चाहती है। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को ईडी के समन पर प्रतिक्रिया देते हुए, उनकी बहन अंजलि सोरेन ने रविवार को केंद्र सरकार पर उनके भाई हेमंत सोरेन को `परेशान’ करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि वह एक `आदिवासी’ हैं, इसलिए परेशान किया जा रहा है।

`आदिवासी हैं इसलिए परेशान किया जा रहा है’

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की बहन अंजलि सोरेन ने ईडी के समन पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि वे `आदिवासी’ हैं, इसलिए परेशान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एक तरफ केंद्र सरकार आदिवासियों के उत्थान की बात करती है और द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति बना देती है और दूसरी तरफ हमें परेशान किया जा रहा है। झारखंड में हेमंत सोरेन सरकार आदिवासी सरकार है। इसलिए, मैं कहूंगी कि उन्हें इसलिए परेशान किया जा रहा है क्योंकि वह आदिवासी हैं।’ उन्होंने कहा, `सरकार को डर है कि अगर हेमंत सोरेन सरकार बनी रही तो भाजपा को आदिवासियों का वोट नहीं मिलेगा। इसलिए, वे किसी तरह उसे बदनाम करना चाहते हैं।’

`ईडी खुद इडियट है’

पश्चिम बंगाल में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों पर हुए हमले के बाद तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) विरोधी दलों के निशाने पर है। वहीं कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने ईडी को लेकर विवादित टिप्पणी करते हुए कहा, `ईडी क्या करेगी? ईडी खुद इडियट है।’ दरअसल, अपनी टीम पर हमला होने के बाद ईडी ने टीएमसी नेता शाहजहां शेख के खिलाफ लुकआउट सर्वâुलर जारी किया। इस बारे में जब अधीर रंजन चौधरी से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, `ईडी क्या करेगी? ईडी खुद बेवकूफ है। बंगाल में सत्ताधारी पार्टी उनका ख्याल रखेगी। सत्ताधारी दल अपनी पार्टी में खतरनाक लोगों को बचाने का काम करता है।’

अन्य समाचार