मुख्यपृष्ठनए समाचारभाजपा को स्थानीय नेताओं पर भरोसा नहीं, राजस्थान चुनाव भी सांसदाें...

भाजपा को स्थानीय नेताओं पर भरोसा नहीं, राजस्थान चुनाव भी सांसदाें के सहारे! … शिवराज को चौथी लिस्ट में जगह

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान हो चुका है। भारतीय जनता पार्टी ने सोमवार को मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ इन तीन राज्यों के लिए १६२ प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की है, लेकिन विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा की इस लिस्ट में सांसदों को मैदान में उतार दिया है। सांसदों को मैदान में उतारने का सीधा मतलब है कि भाजपा को अपने स्थानीय नेताओं पर भरोसा नहीं है अथवा भाजपा के पास लोकल स्तर पर कोई मजबूत चेहरा नहीं उभर पाया है, जो कांग्रेस को कड़ी टक्कर दे सके। ऐसे में भाजपा की हालत साफतौर पर कमजोर नजर आ रही है। भाजपा अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए ही दिग्गजों को मैदान में उतारकर लाए गए लोगों को एक बार फिर इंतजार के लिए पीछे धकेल दिया है।
बता दें कि भाजपा ने राजस्थान के लिए ४१ उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की है। पार्टी ने राजस्थान में ७ मौजूदा सांसदों को चुनावी मैदान में उतारा है, जबकि छत्तीसगढ़ में एक केंद्रीय मंत्री सहित दो सांसदों को उम्मीवार बनाया गया है। राज्यवर्धन सिंह राठौड़ राजस्थान के झोटवाड़ा से, दीया कुमारी विद्याधर नगर से, बाबा बालकनाथ तिजारा से, हंसराज मीणा सपोटरा से, किरोड़ी लाल मीणा सवाई माधोपुर से, नरेंद्र कुमार मांडवा से और देवी पटेल सांचौर से चुनाव मैदान में होंगे।

कब होंगे चुनाव
चुनाव आयोग ने सोमवार को मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान कर दिया। इन राज्यों में चुनावी प्रक्रिया २७ दिन चलेगी। सबसे पहले मिजोरम में ७ नवंबर को मतदान होगा। इसके बाद मध्य प्रदेश में १७ नवंबर को मतदान होगा। छत्तीसगढ़ में २ चरणों में ७ नवंबर और १७ नवंबर को वोटिंग होगी। फिर २३ नवंबर को राजस्थान और ३० नवंबर को तेलंगाना में वोट डाले जाएंगे। इन राज्यों में एक साथ ३ दिसंबर को रिजल्ट आएंगे।

२४ मंत्रियों सहित शिवराज को चौथी लिस्ट में जगह
मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने उम्मीदवारों की चौथी लिस्ट जारी कर दी है। इस लिस्ट में ५७ प्रत्याशियों का नाम घोषित किए गए हैं। इस लिस्ट में २४ मंत्रियों समेत सभी सीटिंग विधायकों को टिकट दिया गया है। सीएम शिवराज सिंह चौहान का नाम भी इस लिस्ट में है। वे बुधनी से चुनाव लड़ेंगे। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा को दतिया से टिकट दिया गया है। अब तक १३६ लोगों के नाम घोषित हो चुके हैं। राज्य में कुल २३० सीटें हैं।

अन्य समाचार