मुख्यपृष्ठसमाचारयूपी में भाजपा नेता की 'दबंगई'! ...ट्रैफिक सिपाही फूट-फूट कर रोया

यूपी में भाजपा नेता की ‘दबंगई’! …ट्रैफिक सिपाही फूट-फूट कर रोया

• वायरल वीडियो पर आईजी ने दर्ज कराया भाजपा नेता समेत सात लोगों पर केस

विक्रम सिंह / कानपुर। यूपी में योगी की सरकार में भाजपा के लोग खुद ही दबंगई पर उतर आए हैं और पुलिस पर रौब गांठ रहे हैं। मंगलवार को कानपुर संभाग के उन्नाव जिले में ऐसे ही वाकये के प्रकाश में आने के बाद पुलिस महानिरीक्षक ने आरोपी भाजपा नेता सहित सात लोगों पर केस दर्ज करा दिया है।
घटनाक्रम  मंगलवार शाम की है। ट्रैफिक सिपाही माधव सिंह गांधीनगर तिराहे पर ड्यूटी पर था। तभी भाजपा नेता सूर्यकुमार मिश्र ‘रज्जन’  समर्थकों संदीप पांडेय, पंकज दीक्षित आदि के साथ चौराहे पर पहुंचे और बीच सड़क गाड़ी खड़ी कर फलों की खरीदारी करने लगे। जाम लगा तो ट्रैफिक सिपाही ने ड्राइवर को टोका और कार के नंबर प्लेट की फोटो खींच ली। इससे भाजपा नेता रज्जन ने सिपाही से गाली-गलौज शुरू कर दी। यहां तक कि वर्दी उतरवाने की धमकी भी दे डाली। उनके समर्थन में कई अन्य स्थानीय लोग भी आ गए। सब मिलकर सिपाही को जबरन कोतवाली ले गए। जहां एसएसआई अवधेश सिंह की मौजूदगी में हंगामा किया और सिपाही पर कार्रवाई की मांग की।
इस दौरान कोतवाल ओपी राय, ट्रैफिक प्रभारी अरविंद पांडेय भी आ पहुंचे। भाजपाइयों ने उनके सामने भी दबंगई दिखाई। कोतवाल राय ने सिपाही माधव सिंह से घटना के बाबत पूछा तो वह पूरी बात बताकर रो पड़ा। दूसरे सिपाही ने उसके आंसू पोछे। इधर भाजपा नेता रौब झाड़ते थाने से निकल गए। अब सिपाही के रोने का रिकॉर्डेड वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ तो बुधवार को हड़कंप मच गया। देर रात गृह विभाग भी हरकत में आ गया। अंततः उन्नाव पुलिस ने सिपाही माधव सिंह की तहरीर पर रज्जन मिश्र, संदीप पांडेय, पंकज दीक्षित समेत सात लोगों पर रिपोर्ट दर्ज कर ली है। वहीं घटना से आहत सिपाही छुट्टी पर चला गया है।

अन्य समाचार