मुख्यपृष्ठनए समाचारभाजपा ने जांच एजेंसियों को कठपुतली बनाया : अशोक गहलोत के भाई...

भाजपा ने जांच एजेंसियों को कठपुतली बनाया : अशोक गहलोत के भाई के घर छापा मारा!

  • पोटाश घोटाला मामले में सीबीआई कर रही जांच
  • अशोक गहलोत के घर की भी ली गई थी तलाशी

सामना संवाददाता / जयपुर
केंद्र की भाजपा सरकार अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए हर तरह के हथकंडे अपना रही है। महंगाई, बेरोजगारी के मुद्दे से भटकाने के लिए केंद्र सरकार अन्य मामलों में उलझा रही है। इस समय उसका सबसे बड़ा हथियार केंद्रीय जांच एजेंसियां हैं। भाजपा सरकार ने इनको कठपुतली बना दिया है। देशभर के विपक्षी नेता जो भी उनके खिलाफ बोल सके, उनके यहां छापा मरवाकर उनकी आवाज को दबाने की कोशिश कर रही है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के भाई अग्रसेन गहलोत के घर सीबीआई ने छापा मारा है। यह कार्रवाई पोटाश घोटाला मामले में की गई है। बता दें कि केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने आज राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के भाई अग्रसेन गहलोत के जोधपुर स्थित आवास पर छापेमारी की कार्रवाई शुरू कर दी है। हालांकि सीबीआई ने इससे पहले भी अशोक गहलोत के घर की तलाशी ली थी। अग्रसेन गहलोत पर आरोप है कि उन्होंने 2007 से 2009 के बीच रासायनिक खाद बनाने के लिए जरूरी पोटाश किसानों को बांटने के नाम पर सब्सिडी पर ली थी।सब्सिडी पर लिए गए पोटाश से खाद बनाकर उन पर निजी कंपनियों को बेचकर मुनाफा कमाने का आरोप है। इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी समन जारी किया था। मिली जानकारी के अनुसार सीबीआई की टीम द्वारा दस्तावेजों की जांच जारी है। इसके साथ ही अग्रसेन गहलोत और उनके परिजनों से पूछताछ चल रही है। बताया जा रहा है कि दिल्ली और जोधपुर की टीम मिलकर पड़ताल कर रही है। इसके साथ ही पावटा स्थित खाद बीज की दुकान पर भी सीबीआई की टीम पड़ताल कर रही है। दस्तावेज खंगालने के साथ खातों की भी जांच की जा रही है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी अग्रसेन गहलोत पर ईडी की ओर से छापेमारी की गई थी और दिल्ली में पूछताछ की गई थी। कस्टम विभाग ने अग्रसेन की कंपनी पर करीब 5.46 करोड़ रुपए का जुर्माना भी लगाया था। अग्रसेन की अपील पर हाईकोर्ट ने ईडी से जुड़े मामले में उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगाई थी। अब इस मामले में सीबीआई ने जांच शुरू की है।

अन्य समाचार