मुख्यपृष्ठनए समाचारतो क्या भाजपा और सोमैया ने मिलकर किया घोटाला? शिवसेना नेता व...

तो क्या भाजपा और सोमैया ने मिलकर किया घोटाला? शिवसेना नेता व सांसद संजय राऊत का सवाल

सामना संवाददाता / मुंबई। ‘आईएनएस विक्रांत युद्धपोत’ के नाम पर किरीट सोमैया ने करोड़ों रुपए का घपला किया। अब भाजपा को इस बारे में खुलासा करना चाहिए। सोमैया कहते हैं कि मैंने पार्टी फंड में पैसा जमा किया तो १३ साल तक सोए हुए थे क्या? अब सोमैया के साथ भाजपा को भी अपराधी ठहराया जाए क्या? तो क्या भाजपा और सोमैया ने मिलकर घोटाला किया? यह मन की बात लोगों के मन में आएगी तो क्या करोगे? यह सवाल शिवसेना नेता व सांसद संजय राऊत ने पूछा।
कोर्ट द्वारा किरीट सोमैया की अग्रिम जमानत अर्जी ठुकराए जाने के बाद मीडिया को प्रतिक्रिया देते हुए सांसद संजय राऊत ने सवाल उठाया कि जब सोमैया कह रहे हैं उन्होंने पैसे पार्टी को दिए तो उन दिनों भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और कोषाध्यक्ष कौन थे? यह सब जांच का विषय है। अब तो ये सब बातें सोमैया ने ही कोर्ट को बताई हैं। १३ साल तक पैसे का इस्तेमाल किया गया, उसका हिसाब तो भाजपा को देना ही पड़ेगा। वे तो जा ही रहे हैं लेकिन डूबते समय उन्होंने भाजपा का भी हाथ पकड़ रखा है।
बनाई जाए ‘भाग सोमैया भाग’ फिल्म
राऊत ने कहा कि अब तो ‘भाग सोमैया भाग’ नई फिल्म कश्मीर फाइल्सवालों को बनानी चाहिए। अगर आपने अपराध नहीं किया तो डरना क्या? यह बातें करते हुए सोमैया दूसरों से उसके भ्रष्टाचार के बारे में सवाल करते हैं। अदालत में जाने के लिए कहते हैं, तो आप क्यों भागते हैं? कानून का पालन करने का ज्ञान दिया तो फिर भाग क्यों रहे हैं?
राऊत ने कहा कि देश में ऐसा कांड कभी नहीं हुआ। आपने देश की जनता की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया है। ‘आईएनएस विक्रांत युद्धपोत’ को लेकर लोगों की भावनाएं तीव्र थीं। उसे म्यूजियम बनाया जाना था, ताकि पाकिस्तान को हरानेवाले उस विशाल जंगी जहाज का पराक्रम अगली पीढ़ी को पता चल सके। शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे की भी यही भूमिका थी। हम राष्ट्रपति से एक साथ मिले थे, साथ में भाजपा भी थी। पृथ्वीराज चव्हाण तब राज्य के मुख्यमंत्री थे। उनसे युद्धपोत को एक स्मारक बनाने के लिए अनुरोध किया गया था। दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हुआ।

अन्य समाचार