मुख्यपृष्ठनए समाचारभाजपा अध्यक्ष के दावों की खुली पोल: चोरी हो गई ‘एम्स’ की...

भाजपा अध्यक्ष के दावों की खुली पोल: चोरी हो गई ‘एम्स’ की बिल्डिंग!

•  जे. पी. नड्डा ने कहा था, ९५ फीसदी निर्माण हो चुका है पूरा
•  निर्माण स्थल पर पहुंचे सांसदों ने बताया, अभी नींव भी नहीं खुदी

सामना संवाददाता / चेन्नई
मदुरै से एक दिलचस्प खबर आई है। वहां बन रहे ‘एम्स’ की बिल्डिंग ही चोरी हो गई। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने एक दावा किया था, पर कुछ ही घंटे में उनके दावे की पोल खुल गई। नड्डा गत गुरुवार को तमिलनाडु के मदुरै गए थे। वहां उन्होंने कहा कि मदुरै में ‘एम्स’ (अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान) की स्थापना से जुड़ा ९५ फीसदी काम पूरा हो चुका है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही इसे जनता को समर्पित कर देंगे। उन्होंने ये भी कहा कि ‘एम्स’ परियोजना के लिए मोदी सरकार द्वारा १,२६४ करोड़ रुपए का आवंटन किया जा चुका है।
नड्डा यहीं नहीं रुके, उन्होंने दावा किया कि केंद्र ने मदुरै ‘एम्स’ के लिए १६४ करोड़ रुपए अतिरिक्त दिए हैं, जिससे १५० बेड वाला संक्रामक रोग ब्लॉक भी ‘एम्स’ के अंदर स्थापित किया जा सके। इस दौरान भाजपा अध्यक्ष ने ये भी कहा कि केंद्र की ओर से मदुरै ‘एम्स’ की मेडिकल की सीटों में भी इजाफा कर दिया गया है। इसके कुछ घंटे बाद कांग्रेस व माकपा के सांसद इस ‘एम्स’ की बिल्डिंग को देखने वहां पहुंचे तो वहां पर उन्हें सपाट जमीन मिली। मिली जानकारी के मुताबिक, जेपी नड्डा के दावे के अगले ही दिन यानी शुक्रवार को कांग्रेस के विल्लुपुरम के सांसद मनिकम टैगोर और माकपा के मदुरै के सांसद वेंकटेशन ने थोप्पुर इलाके का दौरा किया, जहां ‘एम्स’ की बिल्डिंग बनाए जाने की बात कही गई थी। थोप्पुर पहुंचकर दोनों सांसदों ने अपने हाथों में तख्तियां लेकर मोदी सरकार से पूछा कि ‘एम्स’ का काम कहां पूरा हुआ है? दोनों नेताओं के मुताबिक भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने जिस ‘एम्स’ के ९५ फीसदी तक बन जाने का दावा किया है, उसकी नींव तक अभी नहीं रखी गई है। यहां तक कि थोप्पुर में जिस बोर्ड पर ये लिखा था कि ये जमीन ‘एम्स’ मदुरै की है, वो भी अपनी जगह से अब गायब हो गया है। पत्रकारों को संबोधित करते हुए माकपा सांसद वेंकटेशन ने कहा, हैरान करनेवाली बात तो ये है कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने मुझे पिछले हफ्ते ही बताया था कि ‘एम्स’ के निर्माण का शुरुआती काम भी अभी शुरू नहीं हुआ है। ऐसे में हम नड्डा को ये कहते हुए सुनकर स्तब्ध रह गए कि ९५ प्रतिशत निर्माण पूरा हो चुका है।’ कांग्रेस सांसद मनिकम टैगोर ने नड्डा पर तंज कसते हुए कहा कि ४ दिन पहले ही उन्होंने थोप्पुर का दौरा किया था, तो एम्स यहां नहीं था। ऐसे में जब नड्डा का बयान सुना तो अगले ही दिन सुबह उठकर थोप्पुर ये देखने आए कि ४ दिन में यहां मदुरै ‘एम्स’ बनकर तैयार तो नहीं हो गया!

अन्य समाचार