मुख्यपृष्ठसमाचारभाजपा पर गिरेगी जनता की गाज, घमंड में `राज'!

भाजपा पर गिरेगी जनता की गाज, घमंड में `राज’!

-महंगाई में लोगों का जीना हुआ मुहाल
-पायलट ने केंद्र सरकार पर लगाया आरोप

सामना संवाददाता / जयपुर। महंगाई के खिलाफ आज केवल अमीर हीं नहीं, बल्कि गरीब भी परेशान हो गए है। पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने महंगाई सहित कई मुद्दों को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि केंद्र सरकार से लगातार आर्थिक आतंक थोपा जा रहा है। यह केवल बढ़ी हुई कीमतों का ही सवाल नहीं है। भाजपा को घमंड और अहंकार में राज करने की आदत पड़ गई है। इन्हें लगता है कि चुनाव आएंगे तो हम ८० बनाम २० की बात करेंगे। हिंदू-मुस्लिम के नाम पर भड़काएंगे। लोगों में भावनाएं पैदा करके वोट ले लेंगे। इस सरकार की आर्थिक नीतियां देश को खोखला कर रही हैं। किसानों के खाते में दो हजार रुपए डालकर उनके हकों पर लाखों-करोड़ों की डवैâती डाली जा रही है। केंद्र सरकार सब कुछ बेचने में लगी है। देश की सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियां, संपत्तियां बेचने के बाद जो आमदनी हो रही है, उसका फायदा चंद लोगों को दिया जा रहा है।
महंगाई पर नहीं बोलते भाजपा नेता
पायलट ने कहा कि केंद्र सरकार राज्यों को आय में हिस्सा नहीं दे रही है। संघीय प्रणाली में आय का विभाजन होता है, आजादी के बाद से यह होता आया है। केंद्र सरकार ने अब सेस लगाकर अपने पास ज्यादा हिस्सा रखना शुरू कर दिया। भाजपा सरकार ने सात साल में १ लाख २८ हजार करोड़ रुपए पेट्रोल-डीजल पर सेस लगाकर कमाए हैं। इस दौरान राज्य सरकारों को आय में हिस्सा नहीं दे रहा है। आज पेट्रोल-डीजल ही नहीं कुकिंग ऑयल से लेकर रोजमर्रा इस्तेमाल होने वाली हर चीज के दाम आसमान छू रहे हैं। भाजपा नेता महंगाई को लेकर एक शब्द तक नहीं बोलते हैं।
भाजपा का उतरेगा नकाब
पायलट ने कहा कि भाजपा भी जानती हैं बार-बार यह चलने वाला नहीं है, उनका यह नकाब उतरेगा। कई जगह यह नकाब उतरना शुरू हो गया है। भाजपा के लोग सेना के शौर्य और वीरता की बातें करते हैं। भारतीय सेना में १ लाख २२ हजार पद खाली पड़े हैं, इसका जवाब कौन देगा? एक तरफ सेना के पद खाली चल रहे हैं दूसरी तरफ सेना भर्ती रैलियां ही नहीं हो रही हैं।

अन्य समाचार