मुख्यपृष्ठनए समाचारतीन राज्यों को जीतने के बाद भी महाराष्ट्र नहीं जीत पाएगी भाजपा!......

तीन राज्यों को जीतने के बाद भी महाराष्ट्र नहीं जीत पाएगी भाजपा!… लोकसभा में लगेगा तगड़ा झटका

हालिया सर्वे ने सत्ताधारियों को हिलाया

सामना संवाददाता / मुंबई

हाल ही में तीन राज्यों में चुनाव जीतने के बाद भाजपा के हौसले बुलंद हैं और वह २०२४ में भी जीत के सपने देख रही है। मगर तीन राज्यों को जीतने के बाद भी भाजपा महाराष्ट्र नहीं जीत पाएगी। असल में २०१९ के मुकाबले अभी यहां के राजनीतिक समीकरण में काफी बदलाव आ चुका है। यही वजह है कि एक हालिया सर्वे ने सत्ताधारियों को हिला दिया है।
यूपी के बाद महाराष्ट्र में लोकसभा की सबसे ज्यादा सीटे हैं। पिछली बार शिवसेना के साथ मिलकर भाजपा ने चुनाव लड़ा था और काफी सीटें जीती थीं। इस बार वह शिंदे गुट व अजीत पवार गुट के साथ है, पर उसकी सीटें घट रही हैं। सर्वे के अनुसार, भाजपा की सीटों में २५ फीसदी की कमी आनेवाली है। यानी शिंदे गुट और अजीत पवार के गुटों का साथ मिलने के बावजूद भाजपा को कोई खास फायदा मिलता नहीं दिख रहा है। इससे शिंदे गुट में भी बेचैनी है और उसके कई नेता अपने भविष्य को लेकर आशंकित हैं। बता दें कि २०१९ के चुनावों में एनडीए ने बड़ी जीत हासिल की थी। भाजपा और शिवसेना ने २३ और १८ सीटें जीती थीं। कांग्रेस के अगुवाई वाले यूपीए को तब सिर्फ २ सीटें मिली थी। २०२४ के चुनावों में महाराष्ट्र में एनडीए और ‘इंडिया’ गठबंधन के बीच मुकाबला होने की उम्मीद है। पिछले चुनाव में एनडीए को कुल वोट शेयर तब ५० फीसदी से अधिक रहा था। ऐसे में भाजपा को कुछ वोट प्रतिशत का नुकसान होने का अनुमान लगाया गया है। इस बार भाजपा ने राज्य की २६ सीटों पर लड़ने के संकेत दिए हैं। ऐसे में भाजपा को महाराष्ट्र में पिछली बार की तुलना में कुछ सीटों का साफ नुकसान होता दिख रहा है।

अन्य समाचार