मुख्यपृष्ठनए समाचारदेश में धर्मांधों को बढ़ाने की भाजपाई कोशिश! कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नाना...

देश में धर्मांधों को बढ़ाने की भाजपाई कोशिश! कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले का आरोप

  • सामाजिक और धार्मिक अस्थिरता देश की आर्थिक प्रगति के लिए घातक

सामना संवाददाता / मुंबई
अनेकता में एकता ही भारत की पहचान है और यही `आइडिया ऑफ इंडिया’ है। कांग्रेस ने धर्मनिरपेक्षता के सिद्धांत पर चल कर देश की अखंडता को कायम रखा है लेकिन केंद्र की भाजपा सरकार देश में धर्मांधों की संख्या बढ़ाने की कोशिश कर रही है। यह आरोप महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नाना पटोले ने लगाया। उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस पार्टी भाजपा की इस साजिश को कामयाब नहीं होने देगी। उन्होंने कहा कि जब तक देश में सामाजिक स्थिरता नहीं आएगी, तब तक देश में आर्थिक प्रगति संभव नहीं है लेकिन भारतीय जनता पार्टी समाज में नफरत फैलाकर  देश में अस्थिरता पैदा कर रही है। यह अर्थव्यवस्था के लिए काफी घातक है क्योंकि धार्मिक मुद्दों की वजह से देश की छवि लगातार खराब होती जा रही है। पिछले ८ वर्षों में देश की अर्थव्यवस्था में लगातार गिरावट आई है। रुपए का अवमूल्यन हुआ है। सकल घरेलू उत्पाद गिर गया है। हर क्षेत्र में विकास धीमा हो गया है। मुद्रास्फीति खतरनाक दर से बढ़ रही है। बढ़ती बेरोजगारी और महंगाई ने आम आदमी का जीना मुश्किल कर दिया है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जैसे-जैसे घरेलू स्थिति बिगड़ती है, वैसे-वैसे दुनिया में भी हमारे देश की साख खराब होती है। कुछ बातूनी भाजपा प्रवक्ताओं ने दुनिया में हिंदुस्थान की छवि खराब की है। भाजपा प्रवक्ता के बयान पर बीस देशों ने नाराजगी व्यक्त की है और हिंदुस्थानियों से माफी मांगने का आह्वान किया है लेकिन बड़ा सवाल यह है कि पूरा देश भाजपा की गलती के लिए माफी क्यों मांगे? अपने नेताओं की गलती के लिए भाजपा को खुद माफी मांगनी चाहिए। पटोले ने कहा कि मोदी सरकार की विदेश नीति पूरी तरह से विफल रही है।

अन्य समाचार