मुख्यपृष्ठनए समाचारभाजपा का सूपड़ा साफ होना तय! ...जम्मू के साथ खेला, अशांत बनाने...

भाजपा का सूपड़ा साफ होना तय! …जम्मू के साथ खेला, अशांत बनाने एवं मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाने की साजिश – शिवसेना

सामना संवाददाता / जम्मू
शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) जम्मू-कश्मीर इकाईप्रमुख मनीष साहनी के नेतृत्व में शिवसैनिक, नि:शुल्क बिजली-पानी, टोलमुक्त जम्मू-कश्मीर तथा बिना शर्त युवा राजपूत सभा के‌ नेताओं की रिहाई की मांग को लेकर सड़कों पर उतरे। इस दौरान साहनी ने कहा कि जम्मू को अशांत करने की साजिशें रची जा रही हैं।‌ जिस पार्टी पर जम्मू संभाग ने सबसे ज्यादा विश्वास जताया, उसकी सहानुभूति जनता के साथ न‌हीं, अपने व्यापारी मित्रों के साथ है।
केंद्र में भाजपा सत्ता में है, जम्मू संभाग के दोनों सांसद भाजपा के हैं और जो अपनों के लिए रातों-रात अध्यादेशों को लाकर कानून बनाने का दम रखते हों, वे एक मामूली से टोल प्लाजा पर असहाय हो जाए, यह हजम होने वाला नहीं है। जम्मू की जनता के साथ खेला हो रहा है, टोल पर हंगामे के पीछे का मकसद स्मार्ट प्रीपेड मीटर, संपत्ति कर, बेरोजगारी, महंगाई, आर्थिक बदहाली जैसे मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाना है।
साथ ही बिजली दरों में बढ़ोतरी और चार सालों में चार-चार बार बिजली मीटरों को बदल दिया जाता है। जम्मू-कश्मीर जल संसाधनों का धनी है और यहां हजारों मेगावाट की पन बिजली परियोजनाएं काम कर रही हैं। जनता नि:शुल्क बिजली-पानी की हकदार है, मगर सरकार इसके निजीकरण की तरफ कदम बढ़ा रही है।
साहनी ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अगर बिना शर्त युवा राजपूत सभा के नेताओं की रिहाई तथा जम्मू-कश्मीर को टोल से मुक्ति और नि:शुल्क बिजली पानी नहीं दिया गया तो‌ आगामी तमाम चुनावों में भाजपा का सूपड़ा साफ होना तय है। इस मौके पर संजीव कोहली, बलवंत सिंह, राज सिंह, पवन सिंह, राजू हांडा, मंगू राम, शशिपाल आदि उपस्थित थे।

अन्य समाचार