मुख्यपृष्ठअपराधपुलिस अधिकारी बन छात्रा से ब्लैकमेलिंग! छात्राओं को ब्लैकमेल करनेवाले दो शातिर...

पुलिस अधिकारी बन छात्रा से ब्लैकमेलिंग! छात्राओं को ब्लैकमेल करनेवाले दो शातिर सायबर जालसाजों को वाराणसी पुलिस ने दबोचा

उमेश गुप्ता / वाराणसी
वरिष्ठ पुलिस अधिकारी बनकर व्हॉट्सअप कॉल के जरिए महिलाओं और छात्राओं को ब्लैकमेल करनेवाले दो शातिर सायबर जालसाजों को पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। दोनों जालसाज झांसी के रहनेवाले हैं। पुलिस टीम ने इन्हें बुधवार को लंका थाना क्षेत्र के नरिया तिराहे के पास से गिरफ्तार किया। गौरतलब है कि बीएचयू की बीए तृतीय वर्ष की छात्रा को सायबर जालसाज ने पिछले दिनों व्हॉट्सएप कॉल कर खुद को आईपीएस अधिकारी बताया था। इसके बाद छात्रा के अश्लील फोटो व वीडियो उसके पास होने की जानकारी देकर छात्रा को झांसे में ले लिया। छात्रा से उसने अपने अकाउंट में रुपए भी मंगवाए और दोबारा बॉडी मैच कराने के नाम पर उसकी दूसरी नग्न वीडियो बना ली। इसके बाद वह छात्रा को ब्लैकमेल कर रहा था। छात्रा ने लंका थाने में इसके खिलाफ मामला दर्ज कराया।
मामला वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के संज्ञान में आया तो पुलिस कमिश्नर ने सायबर सेल समेत पुलिसकर्मियों की टीम गठित की। पुलिस कमिश्नर सतीश गणेश ने बताया कि दोनों के खिलाफ लंका थाने में विभिन्न मामलों में पहले से से ही दर्ज है। अब इनके खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की जाएगी। पुलिस कमिश्नर ने बताया कि लड़कियों को चंगुल में पंâसाने के लिए आईपीएस अधिकारी बनकर कॉल करते थे। दोनों अपने व्हॉट्सएप प्रोफाइल पर पुलिस अफसरों की डीपी लगाए हुए थे। दोनों पहले किसी लड़की या महिला की एडिटेड फोटो बना लेते थे। और फिर उन्हें कॉल कर बताते थे कि आपकी फोटो और वीडियो वायरल हो रही है। आपके खिलाफ मुकदमा दर्ज है। जांच की जा रही है। इसके बाद फोटो व वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उनसे रुपए ऐंठते थे। गिरफ्तारी के बाद इनके मोबाइल से जालसाजी की शिकार महिलाओं व लड़कियों की एडिटेड फोटो, बैंक अकाउंट से जालसाजी के सबूत और पुलिस अफसरों के फोटो बरामद हुए हैं। दोनों शातिर अपराधी हैं और यह कई महिलाओं व लड़कियों को अपना शिकार बना चुके हैं।

अन्य समाचार