मुख्यपृष्ठसमाज-संस्कृतिप्रधानाचार्य ब्रह्मदेव मिश्र हुए सम्मानित

प्रधानाचार्य ब्रह्मदेव मिश्र हुए सम्मानित

ब्रह्मदेव मिश्र प्रधानाचार्य के पद पर आसीन होने के उपलक्ष्य में महाराष्ट्र हिंदी साहित्य अकादमी के कार्याध्यक्ष आचार्य डॉ. शीतला प्रसाद दुबे, साहित्य अकादमी से पुरस्कृत पूर्व प्रधानाचार्य राम सिंह तथा एन. एल. डालमिया कॉलेज के प्राध्यापक डॉ. अवनीश सिंह ने ब्रह्मदेव मिश्र को शाल, पुष्प गुच्छ एवं तुलसी का पौधा देकर सम्मानित किया।

डॉ. दुबे जी ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में मिश्र जी का योगदान महत्वपूर्ण है और इसी तरह से आप बच्चों के भविष्य के लिए कार्य करते रहें, जिससे नई पौध तैयार होगी। राम सिंह ने कहा कि मैंने मिश्र जी को कई वर्षों से शिक्षा, साहित्य एवं सामाजिक क्षेत्र में कार्य करते हुए देखा है। आपका योगदान महत्वपूर्ण है। डॉ. अवनीश सिंह ने शुभकामना देते हुए कहा कि आप तो हमारे प्रेरणा स्रोत हैं। नई पीढ़ी आपके पदचिह्नों पर चलकर आप ही की तरह समाज को कुछ ना कुछ देने का प्रयास करेगी।

बता दें कि पंडित ब्रह्मदेव मिश्र वाणी की धनी हैं। अपनी मृदु भाषा से ही समाज का एवं अधिकारियों का भरपूर स्नेह पाते हैं। शिक्षा जगत में मिश्र जी ३३ वर्षों से लगातार अपनी सेवा दे रहे हैं। अपने सहकर्मियों के बड़े ही लोकप्रिय शिक्षक रहे हैं।  आपको कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है, जिसमें मुख्य रूप से महाराष्ट्र राज्य शिक्षक पुरस्कार जो एक लाख दस हजार रुपए का नगद पुरस्कार था। आपको महाराष्ट्र राज्य रत्न पुरस्कार एवं मेयर पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है। समूचे शिक्षक समाज को आप पर गर्व हैं। आप ऐसे ही कुशलता से अपने कार्यभार को संभालेंगे, विद्यार्थियों का भविष्य निखारेंगे, विद्यालय को ऊंचाइयों पर ले जाएंगे और कई पुरस्कारों एवं पदों से नवाजे जाएंगे।

अन्य समाचार