मुख्यपृष्ठसमाचारबिहार में पुल चोरी! ....सासाराम में कर्मचारी बनकर पहुंचे चोर

बिहार में पुल चोरी! ….सासाराम में कर्मचारी बनकर पहुंचे चोर

• जेसीबी से तोड़कर ट्रक पर लादकर ले गए

सामना संवाददाता / सासाराम । बिहार के रोहतास जिले के सासाराम में दिनदहाड़े लोहे का पुल चोरी होने का मामला सामने आया है। चोर सिंचाई विभाग के कर्मचारी बनकर गांव में आए और जेसीबी से पुल तोड़ा और फिर गैस कटर से काटकर लोहे को ट्रक पर लाद कर आराम से चलते बने। वहीं विभाग को इस पूरी घटना की भनक तक नहीं लगी। चोरी के तीन दिन बाद विभाग ने अज्ञात चोरों के खिलाफ मामला दर्ज कराया। पुल चोरी के मामले में रोहतास पुलिस ने एसआईटी गठित कर दी है। जानकारी के अनुसार ४७ साल पुराना सासाराम के नासरीगंज प्रखंड के अमियावर स्थित आरा मुख्य नहर पर बना पुल १०० फीट लंबा और १० फीट चौड़ा था। बताया जा रहा है कि पुल में ५०० टन लोहा था। चोर जब पुल तोड़ रहे थे तब गांव वालों ने सवाल किया। इस पर चोरों ने कहा कि वे सिंचाई विभाग के कर्मचारी हैं, पुल जर्जर हो गया है। इसलिए इसे तोड़ा जा रहा है।
लोहे के पुल की हालत थी जर्जर
ग्रामीणों ने बताया कि चोरों ने पुल को पहले जेसीबी से तोड़ा। फिर कटर से काटकर ट्रक पर लादकर भाग गए। इसके बाद ग्रामीणों ने सिंचाई विभाग से बात की तब मामले का खुलासा हुआ। सूचना मिलते ही सिंचाई विभाग के अफसर मौके पर पहुंच कर जांच करने के बाद एफआई दर्ज करवाई। सिंचाई विभाग के विक्रमगंज सब डिविजन के असिस्टेंट इंजीनियर राधेश्याम सिंह ने कहा कि गांव के मुखिया ने पुल हटाने के लिए आवेदन दिया था। इसे बड़े अधिकारियों को भेज दिया गया था लेकिन इस दिशा में अब तक कोई निर्देश नहीं मिले थे। इस बीच चोरों ने पुल को चुरा लिया।

अन्य समाचार