मुख्यपृष्ठअपराधभाई को `भाईजान' का टास्क! ...जर्मनी मेड पिस्टल लेकर सलमान की ताक...

भाई को `भाईजान’ का टास्क! …जर्मनी मेड पिस्टल लेकर सलमान की ताक में हैं बिश्नोई के शूटर

नागमणि पांडेय / मुंबई
अभिनेता सलमान खान को मारने में लॉरेंस गैंग के तीन बार फेल होने के बाद अब यह टास्क अनमोल बिश्नोई को सौंपे जाने का खुलासा जांच एजेंसियों ने किया है। इसके लिए लॉरेंस गैंग के शूटर जर्मनी मेड पिस्टल का इस्तेमाल कर रहा है। यह पिस्टल इंटरनेशनल हथियार तस्कर रणजीत डुपला से मंगाए जाने की जानकारी मिली है। इस खुलासे के बाद एक बार फिर सलमान की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।
गौरतलब है कि काले हिरण के शिकार करने बाद सलमान खान काफी विवादों में घिरे थे। कई वर्षों तक कोर्ट में चली सुनवाई के बाद उन्हें बरी कर दिया गया। लेकिन बिश्नोई समाज से ताल्लुक रखनेवाले गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने सलमान खान को मारने की धमकी दे डाली। इतना ही नहीं, कई बार मारने की कोशिश भी की गई, लेकिन सफल नहीं हुए। सूत्रों का कहना है कि सलमान खान को मारने में लॉरेंस गैंग तीन बार फेल हो चुका है। इन तीनों ऑपरेशन को लीड लॉरेंस के करीबी गैंगस्टर सम्पत नेहरा, दीपक टीनू कर रहे थे। यही वजह है की अब लॉरेंस ने ऑपरेशन सलमान खान का टास्क अपने सगे भाई अनमोल को सौंप दिया है।
विदेश से हो रही पिस्टल की डिलिवरी
लॉरेंस गैंग से जुड़े शूटर अब तक तुर्की मेड जिगाना पिस्टल का इस्तेमाल करते थे। लेकिन कई बार तुर्की मेड पिस्टल के धोखा दिए जाने के कारण अब जर्मनी मेड पीस ३० पिस्टल का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया गया हैं। लॉरेंस गैंग इस पिस्टल की डिलिवरी विदेश से करवा रहा है। हथियारों की खरीद अमेरिका में मौजूद पंजाब के कुख्यात इंटरनेशनल हथियार तस्कर रणजीत डुपला से की जा रही है। विदेशी हथियारों की तस्करी के केस में डुपला को दिसंबर २०१७ में भगोड़ा घोषित किया गया था। उस पर कई राज्यों में अपहरण, हत्या के प्रयास, डवैâती और स्नैचिंग और कॉन्ट्रैक्ट किलिंग के २० से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं। अक्टूबर २०१४ में जब गिरफ्तार किया गया था, उस समय उसके पास विदेशी हथियार बरामद हुए थे। यह हथियार अमीर और प्रभावशाली लोगों और नामी गैंगस्टरों को बेचे जाते थे, जिसके बाद डुपला विदेश भाग गया था। फिलहाल, उसे भारत लाने के लिए एजेंसियां कोशिश कर रही हैं।

अन्य समाचार