मुख्यपृष्ठखबरेंयूपी में बुलडोजर का डर खल्लास! गोरखपुर में फल-फूल रहे हैं एक...

यूपी में बुलडोजर का डर खल्लास! गोरखपुर में फल-फूल रहे हैं एक दर्जन गैंग

मनोज श्रीवास्तव / लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कानून का राज, बुलडोजर की धमक और काउंटर का खौफ बताकर अपराध कम करने का दावा करने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जिले गोरखपुर में बदमाशों के १२ नए गिरोह पनप गए हैं। इन नए गिरोहों को गोरखपुर पुलिस ने बाकायदा पंजीकृत किया है। इन गिरोहों में करीब १०० बदमाश शामिल हैं। पुलिस ने गिरोह के कई सदस्यों के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की है। पुलिस ने दावा किया है कि यह कार्रवाई इसलिए की गई है कि जेल में बंद पेशेवर बदमाशों को जमानत न मिल सके। गैंगस्टर एक्ट के तहत जमानत निरस्त कराके बदमाशों की संपत्ति जब्त कर कुर्क करने की कार्रवाई पुलिस कर रही है। जानकारी के मुताबिक जिले में कई ऐसे पेशेवर बदमाश हैं, जो अलग-अलग अपराधों में जेल कई बार गए, लेकिन उनके गिरोह को सूचीबद्ध नहीं किया गया। एसएसपी डॉ. विपिन ताड़ा के आदेश पर पुलिस अब ऐसे बदमाशों के गिरोह को चिह्नित करके गैंगस्टर की कार्रवाई कर रही है। पुलिस की रिपोर्ट पर बदमाशों की संपत्ति जब्त कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। अब जिले में कुल ९७ गैंग पंजीकृत हैं। इनमें ४११ बदमाशों के नाम शामिल हैं। जिले के एकमात्र सिकरीगंज थाने में एक भी गैंग नहीं है। उन्होंने बताया कि भू माफिया ओमप्रकाश पांडेय की संपत्ति जब्त करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।
बदमाशों के खिलाफ होगी कार्रवाई
गोरखपुर एसएसपी डॉ. विपिन ताड़ा ने कहा कि बदमाशों के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। कुछ महीनों में १२ नए गैंग पंजीकृत किए गए हैं। बदमाशों को जेल भेजने के साथ ही गैंगस्टर की कार्रवाई भी की जा रही है। बदमाश जल्दी जेल से बाहर आकर अपराध न करें, पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। एसएसपी ने बताया कि कई ऐसे हिस्ट्रीशीटर हैं, जिन पर गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है।
नए गैंग की धमक
२४ अप्रैल को मुठभेड़ में पकड़े गए मनोज और अजीत उर्फ सोनू बाबा पर रामगढ़ताल पुलिस ने गैंगस्टर के तहत कार्रवाई की है। ये दोनों पेशेवर बदमाश हैं।
२२ फरवरी को पुलिस की रिपोर्ट पर पेशेवर बदमाश श्रीचंद, शिवा, वीरेंद्र, परवेज अंसारी और मनोज के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की है। पुलिस की रिपोर्ट पर डीएम के आदेश पर बदमाश पर कार्रवाई हुई। सभी जेल में बंद हैं। गैंगस्टर की वजह से जमानत नहीं मिल पाई।
एक मई को कैंट पुलिस ने वाहन चोरी करने वाले गिरोह के खुलीलुर्रहमान और शेख मुबारक उर्फ मुन्ना पर गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई की है। बिहार और असम के रहने वाले दोनों आरोपित गोरखपुर और आसपास के जिलों में आकर वाहन चोरी करते थे। पुलिस ने आरोपितों को जेल भेजा था।

अन्य समाचार