मुख्यपृष्ठअपराधगड़े मुर्दे : ब्लैकमेलर गैंग!

गड़े मुर्दे : ब्लैकमेलर गैंग!

जय सिंह

मुंबई में हप्ता वसूली आम बात है, लेकिन किसी की आबरू से खेलकर उससे पैसा मांगना, किसी की न्यूड वीडियो या फोटो खींचकर उससे पैसा मांगना ब्लैकमेलिंग कहलाता है। ये गड़े मुर्दे इसलिए भी उखाड़े जा रहे हैं ताकि महिलाएं इसे पढ़कर सबक लें। जो पीड़िता है, वो ये सबक ले कि किसी अनजान महिला को भी अपना हमदर्द न समझे और जो आरोपी है, वो एक महिला के साथ कोई ऐसा अत्याचार न करे कि उसे अपने महिला होने पर शर्म आए।
मीरा रोड पुलिस की फाइलों में एक ऐसा मामला दर्ज है, जिसमें तीन महिलाओं की गैंग को एक महिला की अश्लील फोटो लेकर ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। लोभ और लालच ने इन महिलाओं को इतना नीचे गिरा दिया कि अपनी ही सहेली का अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल कर रही थीं। पहले इन तीनों महिलाओं ने महिला होने का फायदा उठाकर पीड़िता को इस कदर प्रभावित किया कि वह इनके हाथों की कठपुतली बन गई। फिर धीरे-धीरे इन तीनों महिला आरोपियों ने पीड़ित महिला के अश्लील वीडिओ को वायरल न करने के बदले पहले तो सारे गहने ले लिए, उसके बाद तीन लाख रुपए की मांग करने लगीं। आखिरकार महिला ने परेशान होकर आरोपियों की शिकायत मीरा रोड पुलिस से कर दी। इसके बाद मीरा रोड पुलिस ने जाल बिछाकर तीनों आरोपी महिलाओं को तीन लाख रुपए लेते हुए मीरा रोड के नया नगर से रंगेहाथों गिरफ्तार कर लिया।
पीड़ित महिला ने बताया कि हुस्ना अफसर शेख उर्फ मनीषा नामक महिला उसकी सहेली है, जो मालाड पश्चिम में रहती है। एक सप्ताह पहले मनीषा ने पीड़िता को फ्लैट दिखाने के बहाने मीरा रोड के नयानगर में स्थित रिलायंस इमारत के एक कमरे में बुलाया। उसके बाद अचानक कमरे में एक आदमी आया। आदमी से बातचीत के दौरान अचानक याश्मीन मोहम्मद अकबर शेख उर्फ शबनम और माही सुनील शर्मा नामक नयानगर और भायंदर के घोडबंदर में रहने वाली महिला घर में आई और घर में शोर मचाने लगी। शोर-शराबा देखकर आदमी भाग निकला। उसके बाद आरोपी महिला हुस्ना अफसर शेख उर्फ मनीषा, याश्मीन मोहम्मद अकबर शेख उर्फ शबनम और माही सुनील शर्मा नामक तीनों महिलाओं ने जबरन पीड़िता का कपड़ा उतरवाया और मोबाइल में उसकी तस्वीर निकाली और वीडियो बना लिया।
मोबाइल में खींची गई उन तस्वीरों और वीडियो के आधार पर तीनों महिलाओं ने पीड़िता को ब्लैकमेल करना शुरू किया। उसके सारे गहने लेने के बाद आरोपी महिलाओं ने तीन लाख रुपए की मांग की। महिलाओं से परेशान होकर पीड़िता ने इसकी शिकायत मीरा रोड पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई। मीरा रोड पुलिस उपनिरीक्षक स्नेहा पी. म्हेतर के मुताबिक, महिला की शिकायत पर पुलिस ने जाल बिछाकर नयानगर मीरा रोड से तीनों महिलाओं को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। तीनों आरोपी महिलाओं पर हप्ता वसूली का मामला दर्ज करके जांच के लिए पुलिस ने कस्टडी में लिया है।

अन्य समाचार