मुख्यपृष्ठखबरेंडोनाल्ड ट्रंप क्या जा सकते हैं जेल? ... घर पर पड़ी रेड!

डोनाल्ड ट्रंप क्या जा सकते हैं जेल? … घर पर पड़ी रेड!

•  एफबीआई को मिले टॉप सीक्रेट परमाणु दस्तावेज
• सीनियर अधिकारियों को भी देखने की इजाजत नहीं
सामना संवाददाता / नई दिल्ली
अमेरिका का व्हाइट हाउस एक बार चर्चा में है और वो भी इसकी भव्यता की वजह से नहीं, बल्कि टॉयलेट की वजह से इसकी चर्चा हो रही है। हमेशा व्हाइट हाउस अपनी खास सिक्योरिटी व्यवस्था और भव्यता को लेकर चर्चा में रहता है लेकिन अब इसकी चर्चा डोनाल्ड ट्रंप के चलते हो रही है। दरअसल, टॉयलेट की कुछ तस्वीरें लीक हुई हैं, जिनमें दावा किया जा रहा है कि ये तस्वीरें व्हाइट हाउस के टॉयलेट की है। इसी को लेकर अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फ्लोरिडा स्थित आवास से बरामद किए गए १५ बक्सों में से १४ टॉप सीक्रेट परमाणु दस्तावेज पाए गए हैं। इस दस्तावेज को सीनियर अधिकारियों को भी देखने की इजाजत नहीं दी गई है। एफबीआई के इस ३२ पन्नों के हलफनामे में आपराधिक जांच को लेकर अतिरिक्त जानकारियां है। इसमें कहा गया है कि मार-ए-लागो स्थित आवास से टॉप सीक्रेट परमाणु दस्तावेज बरामद किए गए हैं। दस्तावेजों में जांच का सबसे महत्वपूर्ण विवरण पेश किया गया है, लेकिन एफबीआई अधिकारियों ने इसमें कुछ बदलाव भी किए हैं ताकि गवाहों की पहचान उजागर नहीं हो सके और जांच के संवदेनशील तौर-तरीकों का भी खुलासा न हो। एफबीआई ने एक न्यायाधीश को यह हलफनामा दिया ताकि वो ट्रंप के आवास पर छापे का वारंट हासिल कर सके।

आपराधिक कानूनों के तहत पड़े छापे
एफबीआई एजेंटों ने फ्लोरिडा के पाम बीच में ट्रंप के मार-ए-लागो एस्टेट पर छापा मारा था, जिसमें बड़ी संख्या में टॉप सीक्रेट परमाणु दस्तावेज वाले बक्से जब्त किए। छापे के वारंट में तीन आपराधिक कानूनों का हवाला दिया गया था, जिनमें एक जासूसी अधिनियम के तहत, अवैध रूप से राष्ट्रीय सुरक्षा जानकारी हासिल करने या बनाए रखने को अपराध माना जाता है और दूसरा संघीय जांच में बाधा डालने वाले अधिनियम शामिल थे।

व्हाइट हाउस छोड़ते वक्त १५ बक्से ले गए थे साथ
अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लेकर फेडरल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि इस साल की शुरुआत में व्हाइट हाउस छोड़ते वक्त डोनाल्ड ट्रंप अपने साथ १५ बॉक्स लेकर गए थे। इनमें से १४ बॉक्स में क्लासीफाइड रिकॉर्ड थे। कुल २५ दस्तावेजों को टॉप सीक्रेट के रूप में पहचान की गई थी। दरअसल, ट्रंप पर राष्ट्रपति भवन छोड़ने के दौरान बक्सों में भरकर कागजातों को ले जाने का आरोप लगा था। उन बक्सों में कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी थे। ट्रंप ने राष्ट्रीय अभिलेखागार (नेशनल अर्काइव) के भी करीब १५ बक्सों को अपने पास रखा था। कार्रवाई की धमकी के बाद उसे वापस किया था। हाल ही में एफबीआई ने पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फ्लोरिडा स्थित घर पर छापा मारा था।

अन्य समाचार