" /> इस्लाम की बात

इंसानियत से बड़ा कोई मजहब नहीं!

अमूमन पाकिस्तान से हिंदुस्थान को लेकर पूर्वाग्रह से ग्रसित नकारात्मक खबरें आती रहती हैं। शायद यही एकमात्र उपाय होता है,

Read more

जुल्म, दहेज, मानसिक उत्पीड़न मर्म को समझे मुस्लिम समाज!

गुजरात के अमदाबाद में पिछले दिनों आयशा नामक एक युवती ने दहेज उत्पीड़न से परेशान होकर साबरमती नदी में कूदकर

Read more

अपनी ऊर्जा सकारात्मक और रचनात्मक कार्यों में लगाए मुस्लिम समाज

मुस्लिम समाज में कई ऐसी शख्सियात हैं, जिनके बयानों से कोई और नहीं बल्कि मुस्लिम समाज ही ज्यादा आहत होता

Read more

शिक्षा है जरूरी… मुसलमानों में शिक्षा को लेकर बढ़ी जागरुकता

जब कभी मुस्लिम समाज का जिक्र महफिलों में होता है तो उनकी कमियों पर भी चर्चा होती है। जरूरी नहीं

Read more

गलतियों को सुधारने का समय, क्या जागरूक कर पाएगी आयशा की मौत?

अमदाबाद की एक घटना ने केवल मुस्लिम समाज ही नहीं बल्कि देश के हर माता-पिता और जागरूक नागरिकों को झकझोर

Read more