" /> रोखठोक

दो मई के बाद का राजनीतिक घटनाक्रम… कोरोना में भी ‘सत्तावाद’ कायम

दो मई के दिन राजनीति में क्या उथल-पुथल होगी, इसकी उत्सुकता सभी को है। कोरोना के कारण परिस्थिति हाथ से

Read more

मोदी के देश को चाहिए एक रूजवेल्ट!

देश की अर्थव्यवस्था ध्वस्त हो गई है। मंदी की लहर में सभी हिचकोलें खाएंगे, ऐसी अवस्था है। शासक आत्मसंतुष्ट व आत्ममुग्ध

Read more

बेलगांव में मराठी अस्मिता की नई लड़ाई…. बेईमानी करनेवालों को रोको!

बेलगांव लोकसभा उपचुनाव के लिए लंबे अर्से के बाद स्थानीय मराठी भाषी एकजुट हुए हैं। महाराष्ट्र एकीकरण समिति के परचम

Read more

अमीरी, होशियारी और प्रमाणिकता…ढूंढ़ो तो मिल जाएगी!

अनिल देशमुख प्रकरण में मुंबई उच्च न्यायालय ने सीबीआई के लिए दरवाजे खोल दिए। देशमुख जैसे फुस्की आरोपों के मामले

Read more

महाराष्ट्र के चरित्र पर सवाल… ‘डैमेज कंट्रोल’ की दुर्गति!

विगत कुछ महीनों में जो कुछ हुआ उसके कारण महाराष्ट्र के चरित्र पर सवाल खड़े किए गए। वाझे नामक सहायक

Read more

प्यासों को पानी नकारनेवाले ‘भक्त’… मंदिर में ईश्वर हैं क्या?

एक तरफ प्रधानमंत्री मोदी पाकिस्तान को वैक्सीन भेजकर मानवता दिखाते हैं। उस कार्य के लिए आलोचना सहते हैं। उसी समय

Read more

मनसुख प्रकरण की रहस्यमय कथा…. अंबानी की ढाल की आड़ में आखिर क्या शुरू है?

अंबानी परिवार के घर के बाहर एक संदिग्ध गाड़ी खड़ी रहती है, उस गाड़ी के मालिक मनसुख हिरेन की तुरंत

Read more

मोहन डेलकर की दुखद खुदकुशी!

मोहन डेलकर सात बार लोकसभा चुनाव जीते थे। केंद्रशासित प्रदेश दादरा-नगर हवेली में उनका दबदबा था। एक साहसी जुझारू नेता,

Read more