मुख्यपृष्ठनए समाचारमणिपुर भाजपा में मचमच... प्रदेश नेताओं ने जेपी नड्डा को लिखी चिट्ठी

मणिपुर भाजपा में मचमच… प्रदेश नेताओं ने जेपी नड्डा को लिखी चिट्ठी

-‘थम नहीं रहा लोगों का गुस्सा!’ अपनी ही सरकार पर उठाए कई सवाल

सामना संवाददाता / नई दिल्ली

मणिपुर में बिगड़ते हालात के बीच प्रदेश भाजपा में मचमच जारी है। अब स्थानीय भाजपा नेता भी अपनी सरकार पर सवाल उठाने लगे हैं। मणिपुर की भाजपा इकाई ने आरोप लगाया है कि हमारी अपनी ही सरकार हालात पर काबू पाने में असमर्थ रही। इसको लेकर पार्टी इकाई की तरफ से राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखा गया है। इसमें कहा गया है कि लोगों में बहुत ज्यादा असंतोष है और प्रशासन के खिलाफ कभी भी गुस्सा भड़क सकता है।
नड्डा को भेजे इस पत्र पर प्रदेश भाजपा मुखिया ए. सारदा देवी समेत आठ शीर्ष पदाधिकारियों के हस्ताक्षर हैं। इस पत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हस्तक्षेप की गुहार लगाई गई है। बता दें कि बीते दिनों इंफाल में भीड़ ने मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह के आवास को निशाना बनाने की कोशिश की थी। इसके अलावा इंफाल में एक भाजपा विधायक के घर पर भी हमला बोला गया था। यह पत्र इन्हीं घटनाओं के बाद आया है। पत्र में लिखा है कि लोगों का गुस्सा और विरोध अब बहुत ज्यादा बढ़ चुका है। हालात से निपटने में सरकार की नाकामी ही इस लंबे समय से चली आ रही अशांति का एकमात्र कारण है। पत्र में आगे लिखा गया है कि हम जानते हैं कि हमारी सरकार भी दिन-रात बिना रुके काम कर रही है ताकि राज्य में सामान्य स्थिति बहाल की जा सके। भाजपा नेताओं के अनुसार, लोगों को अपनी डेली लाइफ में भी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। इसके चलते भी यह समस्या और ज्यादा बढ़ती जा रही है। उन्होंने नड्डा से अनुच्छेद ३५५ को निरस्त करने और राज्य सरकार में विश्वास वापस लाने के लिए मुख्यमंत्री को एकीकृत कमान की बहाली के लिए जोर देने का आग्रह किया।

अन्य समाचार