मुख्यपृष्ठनए समाचारमुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे फिर दिल्ली दरबार में महाराष्ट्र में कैबिनेट का गुजरात...

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे फिर दिल्ली दरबार में महाराष्ट्र में कैबिनेट का गुजरात पैटर्न!

सामना संवाददाता / मुंबई
मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे एक बार फिर दिल्ली दरबार में दाखिल होने जा रहे हैं। वे शनिवार और रविवार को दो दिन दिल्ली में रहेंगे। उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी दिल्ली में ठहरे हुए हैं। इन दोनों के लगातार दिल्ली की उड़ानें भरने के बावजूद राज्य मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं हो रहा है लेकिन अब समझा जा रहा है कि नई सरकार में दिग्गजों को दूर रखते हुए गुजरात पैटर्न को महाराष्ट्र में लागू किया जाएगा। ‘आजादी के अमृत महोत्सव’ के मौके पर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में दिल्ली में होनेवाली बैठक में मुख्यमंत्री शामिल होंगे। रविवार को नीति आयोग की बैठक है। इस बैठक में मुख्यमंत्री शिरकत करेंगे। संभावना है कि इस दो दिवसीय आधिकारिक यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री दोनों भाजपा के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात करेंगे। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी भी शनिवार को दिल्ली में हैं। इस पृष्ठभूमि को देखते हुए संभावना जताई जा रही है कि कैबिनेट के विस्तार पर चर्चा हो सकती है। क्योंकि राज्य में नई सरकार को बने एक महीने से अधिक हो गया है लेकिन भाजपा और शिंदे गुट के विधायकों के अहम विभागों को पाने की जोर देने के कारण कैबिनेट  का विस्तार रुका हुआ है।
इन सबके समाधान के तौर पर नए चेहरों को मौका देनेवाला गुजरात पैटर्न महाराष्ट्र में लागू होने की संभावना है। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि नई कैबिनेट में नए चेहरों को मौका दिया जाएगा। इस कैबिनेट में शामिल होने के लिए भाजपा के कई पूर्व मंत्री फील्डिंग लगा रहे हैं। लेकिन अगर गुजरात फॉर्मूला लागू हो जाता है तो पुराने लोगों को दूर रखा जा सकता है। इसलिए कहा जा रहा है कि देवेंद्र फडणवीस अपने करीबी विधायकों के मंत्री पद को बचाने की दिल्ली दरबार में कोशिश कर रहे हैं। गुजरात में भूपेंद्र पटेल की कैबिनेट में नए चेहरों और महिलाओं को प्राथमिकता दी गई। पुराने व वरिष्ठ मंत्रियों को बाहर का रास्ता दिखाया गया। समझा जा रहा है कि यही फॉर्मूला महाराष्ट्र में भी लागू किया जाएगा। राज्य में सरकार बनने के बाद चर्चा थी कि पिछले महीने की ५ जुलाई को कैबिनेट  विस्तार होगा। उसके बाद चर्चा हुई कि ५ अगस्त को मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा लेकिन यह भी मुहूर्त टल चुका है। उधर महाराष्ट्र में राजनीतिक परिदृश्य पर सुप्रीम कोर्ट में ८ अगस्त को सुनवाई होनी है। इस सुनवाई पर नई सरकार ध्यान दे रही है। मुख्यमंत्री एवं उपमुख्यमंत्री शनिवार और रविवार को दिल्ली में हैं। मुख्यमंत्री शिंदे सोमवार को नांदेड़ के दौरे पर हैं। मंगलवार को मुहर्रम की छुट्टी है। इसलिए अनुमान लगाया जा रहा है कि इसके बाद ही राज्य मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा। इसके साथ शिंदे गुट के प्रवक्ता दीपक केसरकर ने कल मीडिया से हुई बातचीत में स्पष्ट संकेत दिया कि ८ अगस्त को सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के बाद मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा।

अन्य समाचार