मुख्यपृष्ठअपराधचाइल्ड पोर्नाेग्राफी पहुंचा देगी जेल! ६ महीने में १८ मामले दर्ज

चाइल्ड पोर्नाेग्राफी पहुंचा देगी जेल! ६ महीने में १८ मामले दर्ज

  • वेब सीरीज की ओर युवाओं का आकर्षण

सामना संवाददाता / ठाणे
चाइल्ड पोर्नाेग्राफी गैरकानूनी है, यह सभी को पता है। चाइल्ड पोर्नाेग्राफी से संबंधित कोई भी वीडियो बनाना और देखना कानूनी तौर पर अपराध है। कानून में इसके लिए सात साल तक की कैद और एक लाख रुपए जुर्माने का प्रावधान है इसलिए ठाणे पुलिस ने चाइल्ड पोर्नाेग्राफी से बचने और ऐसे वीडियो साझा न करने की चेतावनी दी है, वहीं पुलिस ने बताया कि पिछले ६ महीनों में कुल १८ मामले ठाणे पुलिस ने दर्ज किए हैं।
बता दें कि कुछ वर्ष पहले सरकार ने कई पॉर्न वेबसाइटों पर बैन लगा दिया था। इन वेबसाइटों में ही कई ऐसी वेबसाइटें ऐसी हैं, जिनमें चाइल्ड पोर्नाेग्राफी का भी समावेश था। पुलिस निरंतर चाइल्ड पोर्नाेग्राफी से जुड़े अपराधों पर नजर रखती है। ठाणे पुलिस ने भी इसी के तहत पिछले ६ महीने में चाइल्ड पोर्नाेग्राफी से जुड़े १८ मामले दर्ज किए हैं और अपराधियों पर कार्रवाई की है। ठाणे पुलिस अतिरिक्त आयुक्त अशोक मोराले ने बताया कि आमतौर पर चाइल्ड पोर्नाेग्राफी की सभी वेबसाइटें बैन हैं, इसके बावजूद कई लोग अलग-अलग हथकंडे अपनाकर इन वेबसाइटों का इस्तेमाल करते हैं, वहीं अपने मित्रों को चाइल्ड पोर्नाेग्राफी का वीडियो साझा करते हैं। पुलिस ऐसे लोगों पर कार्रवाई करती है।
यह होगी सजा
जो कोई भी इंटरनेट पर चाइल्ड पोर्नाेग्राफी खोजता है, उसे पांच साल की कैद और दस लाख रुपए के जुर्माने की सजा भोगनी पड़ सकती है। साथ ही एक ही अपराध के लिए दूसरी बार गिरफ्तार होने पर सात साल की कैद और १० लाख रुपए के जुर्माने का प्रावधान है।
७५ से अधिक आईं  शिकायतें
इस वर्ष जनवरी से जून २०२२ के अंत तक ठाणे सिटी पुलिस आयुक्तालय क्षेत्र के ३५ पुलिस स्टेशनों में सोशल मीडिया से संबंधित साइबर सेल में ७५ से अधिक शिकायतें दर्ज की गई हैं। पुलिस ने बताया कि अश्लील टेप दिखाकर डराने-धमकाने के ऐसे १८ मामले दर्ज किए गए हैं।

अन्य समाचार