मुख्यपृष्ठनए समाचारपश्चिमी प्रशांत महासागर में चीन की परमाणु पनडुब्बी दुर्घटनाग्रस्त ... चीन को...

पश्चिमी प्रशांत महासागर में चीन की परमाणु पनडुब्बी दुर्घटनाग्रस्त … चीन को लगा बड़ा झटका!

• कई सैन्य अधिकारियों की मौत
• हादसे की आधिकारिक पुष्टि नहीं

सामना संवाददाता / नई दिल्ली 
ताइवान को अपना हिस्सा मानते हुए आक्रमण करने की तैयारी में जुटे चीन को बड़ा धक्का लगा है। रिपोर्टों से पता चला है कि ताइवान जलडमरूमध्य में चीनी पनडुब्बी दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि चीन के टाइप ०९३ परमाणु पनडुब्बी के दुर्घटनाग्रस्त होने की वजह से चालक दल के सारे सदस्य मारे गए हैं। सोशल मीडिया में चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की परमाणु-संचालित हमलावर पनडुब्बी टाइप ०९३ (शांग क्लास) के ताइवान स्ट्रेट के आसपास दुर्घटनाग्रस्त होने की खबर चल रही है। बताया जा रहा है पनडुब्बी में सवार सात प्रशिक्षुओं सहित सभी अधिकारियों को मौत हो गई है।
राष्ट्रपति को कराया गया अवगत 
सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के सैन्य आयोग मुख्यालय को २१ अगस्त को पीले सागर क्षेत्र में हुई दुर्घटना के बारे में सूचित किया गया था। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को घटना से अवगत कराया गया था, जिसके बाद शी ने सैन्य आयोग के संयुक्त संचालन कमांड सेंटर से मामले की जांच करने के लिए कहा था। आगे बताया गया है कि दुर्घटना पीले सागर में हुई थी, न कि ताइवान जलडमरूमध्य में। वहीं खोजी पत्रकारिता करने वाले एक अन्य एक्स उपयोगकर्ता नेपाल कॉरेस्पोंडेंस ने भी कहा कि टाइप ०९३ हमले वाली परमाणु ऊर्जा से चलने वाली पनडुब्बी दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी, और उस पर सवार सभी लोग इस त्रासदी में मारे गए थे। हालांकि, इसमें कहा गया कि दुर्घटना ताइवान जलडमरूमध्य में हुई।
क्या कह रहे हैं अधिकारी?
पनडुब्बी में सवार चीनी अधिकारियों की मौत की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि इस खबर की पुष्टि करने के लिए कोई सबूत नहीं है। ताइपे टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, ताइवान के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता सन ली-पैंâग ने कहा कि देश के संयुक्त खुफिया और निगरानी तंत्र को पनडुब्बी दुर्घटना का कोई सबूत नहीं मिला है। उन्होंने आगे टिप्पणी करने से इनकार करते हुए कहा कि यह अफवाह अब तक केवल सोशल मीडिया पर प्रसारित हुई है, किसी भी आधिकारिक स्रोत ने कथित घटना की पुष्टि नहीं की है।

अन्य समाचार