मुख्यपृष्ठखबरेंसिटीजन रिपोर्टर : रिक्शाचालकों की मनमानी, बढ़ी लोगों की परेशानी!

सिटीजन रिपोर्टर : रिक्शाचालकों की मनमानी, बढ़ी लोगों की परेशानी!

घाटकोपर
मुंबई के उपनगरों में एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए यातायात के रूप में ऑटोरिक्शा की बहुत डिमांड होती है। कई बार तो जल्दी पहुंचने की जल्दबाजी में ऑटोरिक्शा ही नहीं मिलता। तो कभी-कभी ऑटो रिक्शा मिल जाने पर ऑटो चालकों की मनमानी भी देखने को मिलती है। ऐसी स्थिति में कभी-कभी रिक्शा चालकों की मनमानी लोगों की परेशानियों को बढ़ा देती है। मुंबई के पूर्वी उपनगर के सबसे व्यस्त इलाके में से एक घाटकोपर स्टेशन के बाहर इन दिनों ऑटोरिक्शा चालकों की मनमानी बढ़ गई है। स्टेशन के ठीक बाहर ये लोग ऑटोरिक्शा लगाकर खड़े हो जाते हैं और स्टेशन से बाहर निकलने वाले लोगों को अपने ऑटो में बिठाने के लिए उन्हें मजबूर करते हैं। इससे वहां ट्रैफिक जाम तो होता ही है, साथ ही रेल यात्रियों को आवागमन में भी काफी तकलीफों का सामना करना पड़ता है। `दोपहर का सामना’ के सिटीजन रिपोर्टर प्रकाश वाणी के माध्यम से पहले भी इस बाबत खबर प्रकाशित की जा चुकी है। प्रकाश वाणी के अनुसार, इस बाबत कई बार शिकायत भी की गई है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं होती है। `दोपहर का सामना’ में खबर प्रकाशित होने के बाद महज कुछ दिनों के लिए इन ऑटोरिक्शा चालकों की मनमानी बंद हो गई थी, लेकिन अब दोबारा मनमानी शुरू हो गई है।
आपको बता दें कि घाटकोपर से लोग मेट्रो पकड़ कर अंधेरी-वर्सोवा की ओर जाते हैं। यहां से लोग ट्रेन पकड़कर ठाणे, कर्जत और कसारा भी जाते हैं। इसी तरह चेंबूर की ओर जाने के लिए भी घटकोपर पूर्व से होकर ही आना पड़ता है। इसके अलावा घाटकोपर में लाखों की संख्या में लोग रहते हैं। दक्षिण मुंबई के सीएसटी, चर्चगेट जाने के लिए लोग यहीं से ट्रेन पकड़ते हैं। अब ऐसे में यहां पर आनेवाली भीड़ के बीच ये
ऑटोरिक्शा चालक रुकावट बन जाते हैं। वे लोग रास्ते पर ही खड़े रहते हैं और आने जानेवालों को रिक्शा में बिठाने के लिए जोर जबरदस्ती करते हैं, जिससे  लोग परेशान तो होते ही हैं, साथ ही बीच रास्ते में ऑटो रिक्शा खड़े हो जाने की वजह से वहां ट्रैफिक जाम हो जाता है। प्रकाश वाणी ने इससे पहले भी ट्रैफिक प्रशासन से शिकायत की थी। जब तक ट्रैफिक विभाग के अधिकारी-कर्मचारी यहां रहते हैं तब ऑटोरिक्शा चालक यहां नहीं आते। लेकिन उनके जाने के बाद फिर से वे अपनी मनमानी करते हैं, जिससे यात्री परेशान हो जाते हैं।

सिटीजन रिपोर्टर प्रकाश वाणी का कहना है कि यदि अब कार्रवाई नहीं की गई तो यहां के स्थानीय लोग इन ऑटोरिक्शा चालकों की मनमानी के खिलाफ सड़कों पर उतरने वाले हैं। उन्होंने यह भी बताया कि इसमें कई लोग प्रशासन पर मिलीभगत होने का भी आरोप लगा रहे हैं। प्रकाश वाणी ने प्रशासन से गुजारिश की है कि इस बाबत जल्द से जल्द ध्यान देकर इस समस्या को हल किया जाए। ताकि ऑटोरिक्शा चालकों की मनमानी खत्म हो।

अन्य समाचार