मुख्यपृष्ठस्तंभसिटीजन रिपोर्टर : गंदगी और ट्रैफिक से खराब हो रही मुंबई!... दादर...

सिटीजन रिपोर्टर : गंदगी और ट्रैफिक से खराब हो रही मुंबई!… दादर स्टेशन के बाहर रास्ते पर पार्क होती हैं गाड़ियां

दादर

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में रोजाना हजारों-लाखों की संख्या में सैलानी आते हैं। कुछ यहां घूमने-टहलने आते हैं, तो कुछ रोजी-रोटी और नौकरी के लिए आते हैं तो कई लोग अपना इलाज कराने मुंबई आते हैं। इनमें से सबसे ज्यादा लोग मुंबई सीएसटी, मुंबई सेंट्रल और दादर स्टेशन पर उतरते हैं और पश्चिम की ओर से बाहर निकलकर मुंबई पहुंचने की खुशियां मनाने के बजाय यहां की गंदगी और ट्रैफिक की स्थिति के साथ-साथ सड़क पर ही खड़ी रहनेवाली गाड़ियों की वजह से परेशान होते होंगे। दादर-पश्चिम के बाहर से होकर गुजरने वाले सेनापति बापट रोड के ब्रिज के नीचे फेरीवालों की भीड़ लगी रहती है तो उसके आगे सड़क पर ट्रैफिक जाम लोगों की परेशानियां बढ़ा देता है।
इतना ही नहीं, सेनापति बापट रोड के दोनों बगल में टैक्सी और अन्य वाहन पार्क रहते हैं, जिस वजह से जाम लग जाता है और पादचारियों को भी आवागमन में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इस समस्या को उजागर किया है `दोपहर का सामना’ की सिटीजन रिपोर्टर मनीषा जोशी ने। उनके अनुसार, सेनापति बापट रोड पर ही फूल बाजार में मनपा की कचरे की गाड़ी भी घंटों खड़ी रहती है और यहां पड़े कचरे को ले जाती है। यह गाड़ी पीक ऑवर में भी वहां आकर खड़ी रहती है। जिस वजह से पुल से उतरने वाले वाहनों को ट्रैफिक जाम का सामना करना पड़ता है।
सेनापति बापट रोड पर मुंबई उपनगर से दक्षिण मुंबई और लोअर परेल के कॉर्पोरेट कार्यालयों तक जाने वाले वाहनों की संख्या अधिक होती है। इसलिए यह ट्रैफिक जाम अक्सर माटुंगा स्टेशन तक पहुंच जाता है। `दोपहर का सामना’ की सिटीजन रिपोर्टर मनीषा जोशी के अनुसार, इस बाबत कई बार प्रशासन को स्थानीय लोगों ने चेताया है। बावजूद इसके अभी तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं हो रही है।
ट्रैफिक विभाग को यहां पर गलत जगह पार्क होनेवाले वाहनों पर कार्रवाई करनीr चाहिए और यहां पर हमेशा के लिए ट्रैफिक विभाग के किसी कर्मचारी को नियुक्ति करना चाहिए, ताकि वह लोगों को गाड़ियां पार्क करने से रोक सकें। इसके अलावा मनपा विभाग को फेरीवालों पर कार्रवाई कर उन पर भी पाबंदी लगा देनी चाहिए, ताकि यहां स्वच्छता बनी रहे। तब जाकर ही दादर का कायाकल्प हो सकता है।

अन्य समाचार