मुख्यपृष्ठखेलक्लीन बोल्ड : अरशद आए तिरंगे के नीचे

क्लीन बोल्ड : अरशद आए तिरंगे के नीचे

अमिताभ श्रीवास्तव

यह कोई जानबूझकर नहीं किया गया। मगर जो भी कुछ हुआ वो जबरदस्त तरीके से वायरल हुआ है। कहा जा रहा है कि पाकिस्तानी भाला फेंक अरशद तिरंगे के नीचे आए। आए भी थे। दरअसल, जब नीरज चोपड़ा ने विश्व चैंपियनशिप में गोल्ड मैडल जीता और अपने तिरंगे के साथ फोटो सेशन करवाया तो अरशद भी उनके पास आकर खड़े हो गए। अरशद सिल्वर मैडल विजेता थे। वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि मुकाबले के बाद जब नीरज चोपड़ा और पाकिस्तान के एथलीट अरशद नदीम को फोटो सेशन के लिए बुलाया तो इस दौरान नीरज और ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाले याकूब वालेश अपने देश का झंड़ा लेकर फोटो क्लिक कराने के लिए तैयार रहे, तभी नीरज की नजर अरशद पर पड़ी जो दूर खड़े थे। अरशद को नीरज फोटो क्लिक कराने के लिए बुलाते हैं और अरशद भी दौड़कर आते हैं, लेकिन नीरज अपने देश के झंड़े के साथ होते है, वहीं, अरशद अपने देश का झंडा लाना भूल जाते हैं। ऐसे में विश्व चैंपियन नीरज पाकिस्तानी खिलाड़ी एथलीट को पीछे से तिरंगे से सहारा देते हुए दिखाई दिए। ये वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है।

धोनी के पैरों में लड़की
महेंद्र सिंह धोनी की फैन फॉलोइंग इतनी तगड़ी है कि लोग उन्हें पूजनीय मानने लग गए हैं। वैसे क्रिकेट के मशहूर और दिग्गज खिलाड़ी हैं और इसी खूबी ने उन्हें सेलेब्रेटी बना रखा है। इसके अलावा उनके सभ्य व्यवहार से भी लोग काफी आकर्षित होते हैं। इन्हीं कारणों से तो वो बेहतर इंसान के रूप में नजर आते हैं और कभी-कभी तो जब ऐसा वाकया हो जाता है जब कोई उनके पैर पड़ता है तो वो एकदम असहज हो जाते हैं। अब देखिए न सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक लड़की उनके चरण स्पर्श करती हुई दिख रही है। इस वीडियो में एमएस धोनी चेयर पर बैठे हुए नजर आ रहे हैं। इसी बीच उनकी एक फीमेल फैन आती है और आते ही माही के पैरों में पड़ जाती है। यह देख धोनी उसे ऐसा करने से मना करते हैं और मुस्‍कुराते हुए उससे हाथ मिलाते हैं। धोनी का यह अंदाज सोशल मीडिया पर काफी पसंद किया जा रहा है। धोनी के पैâन ने ही इस वीडियो को ट्विटर (एक्स) पर पोस्‍ट किया है, जिसे लगातार कई यूजर्स ने शेयर किया है।

हाय ये पीठ
और इस तरह महिला टेनिस की सुंदरी टूर्नामेंट से हट गई। हट गई क्योंकि पीठ में चोट लग गई। जी हां, बियांका आंद्रीस्कू ने पीठ की चोट के कारण अमेरिकी ओपन टेनिस ग्रैंडस्लैम से हटने का पैâसला किया। वह २०१९ में साल का अंतिम ग्रैंडस्लैम खिताब जीती थी। पाउला बाडोसा ने भी चोट के कारण टूर्नामेंट से हटने का निर्णय लिया जिससे वीनस विलियम्स को पहले दौर में नई प्रतिद्वंद्वी से भिड़ना होगा। अमेरिकी टेनिस संघ ने आंद्रीस्कू के हटने की घोषणा की लेकिन उनकी चोट की जानकारी नहीं दी। वो जब १९ साल की थी तब उसने जीता था यूएस ओपन। इतिहास रचा था। वह ग्रैंडस्‍लैम जीतनेवाली पहली कनाडाई बनी थी। उन्‍होंने २३ बार की ग्रैंडस्‍लैम विजेता अमेरिका की सेरेना विलियम्‍स को सीधे सेटों में ६-३, ७-५ से हराया था। इस जीत के साथ ही बियांका ग्रैंडस्‍लैम जीतने वाली दूसरी सबसे कम उम्र की विजेता बन गई थी। उनसे पहले २००६ में रूस की मारिया शारापोवा ने यह रिकॉर्ड बनाया था। मगर इस बार वो इस ग्रैंड स्लैम में नहीं दिखेंगी।

अन्य समाचार