मुख्यपृष्ठखेलक्लीन बोल्ड : नेपकिन की नीलामी

क्लीन बोल्ड : नेपकिन की नीलामी

अमिताभ श्रीवास्तव

अब मशहूर हो जाओ तो आपकी इस्तेमाल की गई चीजों की वैल्यू भी बढ़ जाती है, फिर वो चाहे जो हो। अब देखिए न, नेपकिन की नीलामी हो रही है जो खिलाड़ी अपना पसीना पोंछने के उपयोग में लाता था। जी हां, बात लियोनल मैसी के नेपकिन की है। इसे ऐतिहासिक नैपकिन माना गया है और इसके लिए शुरुआती बोली ३.१४ करोड़ रुपए (३,००,००० पाउंड) से शुरू होगी। इस नैपकिन को मार्च २०२४ में ब्रिटिश नीलामी घर बोनहम्स के माध्यम से बेचा जाएगा। नीलामीकर्ताओं का मानना है कि इस नैपकिन की कीमत काफी बड़ी होगी, क्योंकि मैसी फुटबॉल इतिहास के सबसे महान और पसंदीदा खिलाड़ियों में से एक हैं। ३६ वर्षीय मैसी के करियर में स्पेन के शीर्ष क्लब बार्सिलोना की अहम भूमिका है। इस क्लब के साथ ही मैसी ने युवा खिलाड़ी के तौर पर अपने सफर की शुरुआत की थी। अब मैसी का वो नैपकिन नीलाम होने जा रहा है, जिस पर सिर्फ १३ साल की उम्र में उन्होंने बार्सिलोना के साथ अनुबंध साइन किया था। मैसी बार्सिलोना के साथ २००० से २०२१ तक लगातार खेले।
सीरीज से बाहर कोहली?
दो टेस्ट मैचों से बाहर थे विराट कोहली, मगर लग रहा है वो पूरी सीरीज ही नहीं खेलेंगे। यदि ऐसा हुआ तो यह टीम इंडिया के लिए काफी बड़ा झटका होगा। दरअसल, टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और स्टार बल्लेबाज विराट कोहली को टेस्ट सीरीज के पहले और दूसरे मैच के लिए स्क्वॉड में शामिल किया गया था, लेकिन हैदराबाद टेस्ट से ३ दिन पहले अचानक उनके टीम से बाहर होने का एलान बीसीसीआई ने किया था। बोर्ड ने बताया था कि कोहली ने निजी कारणों से दोनों टेस्ट मैचों से अपना नाम वापस ले लिया था। बीसीसीआई ने उस वक्त ये नहीं बताया था कि क्या कोहली तीसरे टेस्ट से वापसी करेंगे या नहीं? ये सवाल अब भी बरकरार है। बीसीसीआई ने सीरीज के बचे हुए तीन मैचों के लिए अभी स्क्वॉड का एलान नहीं किया है। हर कोई यही उम्मीद कर रहा है कि कोहली तीसरे टेस्ट से टीम में वापसी करेंगे, लेकिन फिलहाल इस पर स्थिति साफ नहीं है।
वॉक रेस की रानी
यह हिंदुस्थानी एथलीट में एक और शानदार इजाफा है कि उसे अब वॉक रेस में भी ऐसी रेसर मिल गई है, जिससे उम्मीद की जा सकती है। दरअसल, ओलिंंपिक जैसे आयोजनो में हमेशा हिंदुस्थान एथलीट इवेंट्स में पीछे रहा है, मगर पिछले एशियाई खेलों के बाद तो हिंदुस्थानी धावकों ने विश्व में अपना डंका बजाया है। बहरहाल, पंजाब की वॉक रेसर मंजू रानी और साहिल ने चंडीगढ़ में आयोजित ओपन नेशनल वॉक रेसिंग चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन करके मिक्स्ड टीम के लिए दावेदारी पेश की। यह टीम अप्रैल महीने में तुर्की में होने वाली वर्ल्ड वॉकिंग चैंपियनशिप में हिस्सा लेगी, जो पेरिस ओलिंपिक २०२४ का क्वॉलिफाइंग इवेंट है। पेरिस ओलिंपिक में वॉक रेस की मिक्स्ड वैâटेगरी को शामिल किया गया है। मंजू नेशनल चैंपियनशिप की २० किलोमीटर और १० किलोमीटर में नंबर-१ रही, जबकि साहिल ने १० किमी में पहला और २० किमी में ५वां स्थान हासिल किया। २ साल की उम्र में मां को खोने वाली मंजू के पिता को जमीन भी गिरवी रखनी पड़ी। उन्हें ५ साल पहले खराब प्रदर्शन की वजह से साई के भोपाल सेंटर से बाहर कर दिया गया था।

(लेखक वरिष्ठ खेल पत्रकार व टिप्पणीकार हैं।)

अन्य समाचार