मुख्यपृष्ठखेलक्लीन बोल्ड : `यशस्वी' भव:

क्लीन बोल्ड : `यशस्वी’ भव:

अमिताभ श्रीवास्तव

अपने नाम को सार्थक करते हुए एक बार फिर यशस्वी जायसवाल ने एशियाड में रिकॉर्ड बना डाला। नेपाल के खिलाफ मात्र ४८ गेंदों पर टी२० का उनका पहला शतक था। यशस्वी जायसवाल टी२० इंटरनेशनल क्रिकेट में हिंदुस्थान के लिए शतक ठोकने वाले सबसे युवा बल्लेबाज भी बन गए हैं। यशस्वी ने एशियन गेम्स के क्वार्टर फाइनल मैच में नेपाल के खिलाफ तूफानी अंदाज में शतक जड़कर इतिहास रच दिया है। यशस्वी जायसवाल एश‍ियन गेम्स में टीम इंडिया की ओर से शतक जड़नेवाले पहले पुरुष ख‍िलाड़ी हैं। यशस्वी जायसवाल ने एशियन गेम्स के क्वार्टर फाइनल मैच में नेपाल के खिलाफ अपनी पारी में ७ छक्के और ८ चौके जड़े। यशस्वी जायसवाल टी२० इंटरनेशनल क्रिकेट में टीम इंडिया के लिए शतक ठोकने वाले सबसे युवा बल्लेबाज भी बन गए हैं। इस मामले में उन्होंने शुभमन गिल का रिकॉर्ड तोड़ा है।

मामला-ए-ट्रांसजेंडर
ट्वीट किया था, बवाल मचा तो जल्द ट्वीट हटा दिया। क्यों मचाया बवाल? आखिर ऐसा क्या हुआ कि अपने ही देश की खिलाड़ी के खिलाफ बयान देकर सुर्खियों में आना चाहा? मामला ट्रांसजेंडर का है। दरअसल, हिंदुस्थान की स्वप्ना बर्मन ने यह आरोप लगाकर विवाद खड़ा कर दिया कि एशियाई खेलों की महिला हेप्टाथलान प्रतियोगिता में एक ट्रांसजेंडर खिलाड़ी के कारण वह कांस्य पदक जीतने से वंचित रह गई। जकार्ता एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतनेवाली स्वप्ना ने आरोप लगाया कि हमवतन नंदनी अगसारा महिलाओं की स्पर्धा में भाग लेने के योग्य नहीं थी क्योंकि वह ट्रांसजेंडर है। स्वप्ना ने बाद में यह पोस्ट सोशल मीडिया से हटा दी थी। नंदिनी ने महिलाओं की हेप्टाथलान में कांस्य पदक जीता था जबकि स्वप्ना अपने खिताब का बचाव नहीं कर पाई और चौथे नंबर पर रही थी। भारतीय एथलेटिक्स महासंघ ने इस पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। विश्व एथलेटिक्स के इस साल ३१ मार्च से लागू किए गए नियमों के अनुसार कोई भी एथलीट जिसमें पुरुषों के लक्षण पाए जाते हैं वह महिलाओं की विश्व रैंकिंग प्रतियोगिताओं में भाग नहीं ले सकता है।

क्रिकेटर की पत्नी का एशियाड में कमाल
क्रिकेटर की पत्नी का ख्याल आए तो दिनेश कार्तिक की पत्नी दीपिका पल्लीकल का विचार आता है मगर अब उनकी जगह ले ली है एक दूसरे क्रिकेटर ने जिनकी पत्नी ने एशियाड में कमाल दिखाया है। जैसे दीपिका स्क्वैश में अव्वल थी, वैसे ये रोलर स्केटिंग में अव्वल हैं। केरल के क्रिकेट खिलाड़ी संदीर वारियर की पत्नी आरती कस्तूरी राज ने रोलर स्केटिंग की ३००० मीटर रिले में टीम स्पर्धा का कांस्य पदक जीता और चर्चा में आई। पत्नी की जीत से खुश वारियर ने कहा,‘मुझे उस पर बहुत गर्व है। मैं वास्तव में बहुत खुश हूं कि वह आखिर में पदक जीतने में सफल रही। मैं पिछले सात आठ साल से उसके संघर्षों का गवाह रहा हूं, लेकिन उसने कभी हार नहीं मानी और कड़ी मेहनत करती रही।’ उन्होंने कहा, ‘मैं जानता हूं कि पिछले दो वर्षों में उसने कितनी कड़ी मेहनत की है। मैंने अपनी आंखों से उसका समर्पण देखा है। उसका लक्ष्य केवल पदक जीतना था। मुझे याद नहीं है कि उसने पिछले दो-तीन वर्षों में कब ब्रेक लिया था।’

(लेखक वरिष्ठ खेल पत्रकार व टिप्पणीकार हैं।)

अन्य समाचार