मुख्यपृष्ठखेलक्लीन बोल्ड : कटवा लिया ओलिंपिक टिकिट

क्लीन बोल्ड : कटवा लिया ओलिंपिक टिकिट

अमिताभ श्रीवास्तव

पंत को निगल कर रचा इतिहास
दिल्ली के कप्तान को राजस्थान के फिरकी ने निगलकर ऐसा इतिहास रचा, जो अब तक कोई हिंदुस्थानी फिरकीबाज नहीं रच सका था। जी हां, राजस्थान वर्सेस दिल्ली मैच में यजुवेंद्र चहल को एक मात्र सफलता ऋषभ पंत के रूप में मिली। चहल मैच में काफी महंगे साबित हुए और उन्होंने चार ओवरों में ४८ रन दिए। हालांकि, पंत का विकेट लेके ही उन्होंने इतिहास रच दिया। ऋषभ पंत के रूप में यजुवेंद्र चहल ने टी-२० क्रिकेट में अपने करियर का ३५०वां शिकार किया और चहल टी-२० क्रिकेट में इस मुकाम पर पहुंचने वाले पहले हिंदुस्थानी गेंदबाज बन गए हैं। यजुवेंद्र चहल टी-२० क्रिकेट में ३५० विकेट लेने वाले पहले हिंदुस्थानी हैं। उनसे पहले कोई भी इंडियन गेंदबाज यह कारनामा नहीं कर पाया है। इसके साथ ही यजुवेंद्र चहल टी-२० क्रिकेट में ३५० या उससे अधिक विकेट लेने वाले स्पिन गेंदबाजों की सूची में शामिल हो गए हैं। इससे पहले राशिद खान, सुनील नरेन, इमरान ताहिर, शाकिब अल हसन ही यह कारनामा कर पाए हैं।

खत्म करो इंपैक्ट प्लेयर
जब अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ऐसा कोई नियम नहीं है तो क्यों आईपीएल में इसे आजमाया जा रहा है? खत्म करो इसे। जी हां, पूर्व दिग्गज मोहम्मद कैफ ने इंपैक्ट प्लेयर नियम को खत्म करने की अपील की है। कैफ ने सोशल मीडिया पोस्ट शेयर कर अपनी राय दी है। कैफ ने पोस्ट शेयर किया और अपनी बात लिखी। कैफ ने लिखा, `बल्लेबाजों को इम्पैक्ट प्लेयर के रूप में ६५ बार इस्तेमाल किया गया, जबकि गेंदबाजों को ४२ बार। टी-२० में निश्चित रूप से किसी अतिरिक्त बल्लेबाज की जरूरत नहीं है, इससे खेल का संतुलन बिगड़ता है और भारतीय क्रिकेट को भी नुकसान पहुंचता है। इसे रोकने की जरूरत है।’ सोशल मीडिया पर शेयर किए गए पोस्ट पर फैंस के खूब सारे रिएक्शन आ रहे हैं। दरअसल, हाल के समय में आईपीएल के दौरान बल्लेबाजों से ज्यादा गेंदबाज को इंपैक्ट प्लेयर के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है। यही कारण है कि वैâफ ने उदाहरण के साथ इस नियम को खत्म करने की अपील की है।

कटवा लिया ओलिंपिक टिकिट
यह खुशखबरी है कि महिला और पुरुष दोनों की टीम ने आगामी ओलंपिक के लिए टिकिट कटवा लिया यानी क्वॉलिफाई कर लिया। पुरुषों की र्४ े४०० और महिलाओं की र्४ े४०० टीमों ने आगामी पेरिस ओलिंपिक के लिए क्वॉलिफाई कर लिया है। ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई करने के लिए टीमों ने विश्व चैंपियनशिप में भाग लिया था। तीन हिंदुस्थानी रिले टीमें पहले दौर में क्वॉलिफाई करने में असफल रहीं, लेकिन अब दूसरे राउंड में दो हिंदुस्थानी रिले टीमों ने पेरिस का टिकट पक्का कर लिया है। भारतीय महिला रिले टीम की सदस्य रूपल चौधरी, एमआर पूवम्मा, ज्योतिका श्री दांडी और शुभा वेंकटेशन ने ३.२९.३५ मिनट में लक्ष्य हासिल कर दूसरे स्थान पर रहकर पेरिस ओलिंपिक का टिकट हासिल किया। वहीं जमैका की महिला टीम ३.२८.५४ मिनट के साथ पहले स्थान पर रही। भारतीय पुरुष रिले टीम के सदस्य मोहम्मद अनस याहिया, मोहम्मद अजमल, अरोकिया राजीव और अमोज जैकब ने ३.३.२३ मिनट में दूसरे स्थान पर रही और पेरिस ओलिंपिक के लिए अपना टिकट पक्का कर लिया।
(लेखक वरिष्ठ खेल पत्रकार व टिप्पणीकार हैं।)

अन्य समाचार