मुख्यपृष्ठस्तंभक्लीन बोल्ड : घर में घुस कर पाकिस्तान को पीटा

क्लीन बोल्ड : घर में घुस कर पाकिस्तान को पीटा

अमिताभ श्रीवास्तव

पाकिस्तान को उसके ही घर में घुसकर हिंदुस्थान ने पीट दिया। दरअसल, डेविस कप मुकाबले में हिंदुस्थानी टीम पाकिस्तान गई हुई है, जहां उसने एकतरफा मुकाबले में पाकिस्तान को हराया। हमारी टेनिस टीम ने ६० साल बाद पाकिस्तान के दौरे पर ऐतिहासिक जीत दर्ज की है। हिंदुस्थानी टीम ने पाकिस्‍तान को उसी के ही घर में करारी शिकस्त दी है। डेविस कप में हिंदुस्थान और पाकिस्तान के बीच खेले गए मुकाबले में युकी भांबरी और साकेत माइनेनी ने डबल्स मुकाबले में जीत के साथ प्ले ऑफ में ३-० की विजयी बढ़त दिलाई फिर सिंगल लगभग औपचारिकता रह गए थे। इसमें भी हमने पाकिस्तान को मात दी। इस जीत के साथ ही हिंदुस्थानी टीम ने वर्ल्ड ग्रुप-१ के लिए क्वॉलिफाई कर लिया है। युकी भांबरी और साकेत माइनेनी ने डबल्स मुकाबले में जीत के साथ टीम को प्ले ऑफ में ३-० की विजयी बढ़त दिलाई। इससे पहले इंडिया के पास २-० की बढ़त थी। यही मुकाबला था, जिसमें जीत कर अजेय बढ़त बनती और हम इसमें भी जीत हासिल की।
शानदार जादरान
अब भले ही इधर टीम इंडिया और इंग्लैंड मैच का रोमांचक मुकाबला हो, मगर उधर अपने इतिहास का, अपने देश के लिए पहला टेस्ट शतक लगाकर अफगानिस्तानी बल्लेबाज ने क्रिकेट विश्व में नई शुरुआत की। अफगानिस्तानी बल्लेबाज इब्राहिम जादरान के पहले टेस्ट शतक से अफगानिस्तान ने श्रीलंका के खिलाफ एकमात्र क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन दूसरी पारी में एक विकेट पर १९९ रन बनाकर जोरदार वापसी की। पहली पारी में २४१ रन से पिछड़ने के बाद इब्राहिम (नाबाद १०१) ने नूर अली जादरान (४७) के साथ पहले विकेट के लिए १०६ रन जोड़कर अफगानिस्तान को अच्छी शुरुआत दिलाई। उन्होंने रहमत शाह (नाबाद ४६) के साथ दूसरे विकेट के लिए ९३ रन की अटूट साझेदारी की, जिससे अफगानिस्तान की टीम अब श्रीलंका से सिर्फ ४२ रन से पीछे है। अपना छठा टेस्ट खेल रहे इब्राहिम अपने पहले टेस्ट शतक के दौरान अब तक २१७ गेंद का सामना करते हुए ११ चौके जड़ चुके हैं। नूर अली को असिता फर्नांडो ने पगबाधा करके श्रीलंका को दूसरी पारी में एकमात्र सफलता दिलाई।
विगेश की धांसू जीत
कुश्ती में चले लंबे विवाद के बाद इस एक बड़ी सफलता ने फिर से हिंदुस्थानी कुश्ती के लिए नए सूरज का उदय किया है। एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता विनेश फोगाट ने आईओए की तदर्थ समिति द्वारा आयोजित सीनियर राष्ट्रीय कुश्ती चैंपियनशिप में ५५ किग्रा वजन का स्वर्ण पदक अपने नाम किया। विनेश ने अपने अनुभव से मध्य प्रदेश की ज्योति को ४-० से मात दी, जबकि यह शीर्ष पहलवान ऊंचे वजन वर्ग में हिस्सा ले रही थीं। रेलवे खेल संवर्धन बोर्ड (आरएसपीबी) का प्रतिनिधित्व कर रही २९ वर्षीय विनेश ने २०१८ जकार्ता एशियाई खेलों में ५० किग्रा का स्वर्ण पदक जीता था, जबकि २०२२ बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में ५३ किग्रा वजन वर्ग में खिताब जीता था। एक अन्य मुकाबले में २०२१ विश्व चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता हरियाणा की अंशु मलिक ने २०२० एशियाई चैंपियनशिप की स्वर्ण पदक विजेता सरिता मोर (रेलवे) को ५९ किग्रा वजन वर्ग में ८-३ से पराजित किया। हरियाणा ने १८९ अंक से शीर्ष स्थान हासिल किया। आरएसपीबी १८७ अंक से दूसरे स्थान पर तो पुडुचेरी ८१ अंक से तीसरे स्थान पर था।

अन्य समाचार

कुदरत

घरौंदा