मुख्यपृष्ठखेलक्लीन बोल्ड : दूसरी टीमें, दूसरों पर निर्भर

क्लीन बोल्ड : दूसरी टीमें, दूसरों पर निर्भर

अमिताभ श्रीवास्तव

न्यूजीलैंड को पराजित कर देने के बाद साउथ अफ्रीका ने सारे समीकरण ही गड्ड-मड्ड कर दिए हैं। सेमीफाइनल की दौड़ में चौथे नंबर के लिए लड़ाई इतनी तेज हो गई है कि टीमों को खुद के मैच भी जीतना है और दूसरी टीमों की हार की भी मन्नतें करनी हैं। ये टीमें हैं पाकिस्तान, अफगानिस्तान और श्रीलंका। केवल यही नहीं, बल्कि ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड को भी अब सचेत रहना होगा। दरअसल, साउथ अफ्रीका की जीत ने इन टीमों के टॉप-४ में जाने के रास्ते खोल दिए हैं। अभी तक ये टीमें बाहर होने के कगार पर खड़ी हुई थीं। हालांकि, अब भी इन टीमों के लिए राह इतनी आसान नहीं है। पाकिस्तान, अफगानिस्तान और श्रीलंका के लिए सेमीफाइनल के दरवाजे पूरी तरह से खुल गए हैं। पाकिस्तान के ७ मैचों में ६ अंक हैं, जबकि अफगानिस्तान के ६ मैचों में ६ अंक हैं। वहीं श्रीलंका के ६ मैचों में चार अंक हैं। इन टीमों को सबसे पहले अपने बचे हुए मुकाबले जीतने होंगे, तभी टॉप-४ के लिए क्वालीफाई की दावेदारी पेश कर सकती हैं। इसके अलावा बाकी टीमों की जीत पर भी काफी कुछ निर्भर रहनेवाला है।
बीच स्पर्धा भागा कंगारू
कंगारू बोले तो ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी। ऑस्ट्रेलिया की टीम न केवल अपने खिलाड़ी के घर लौट जाने से परेशान है, बल्कि एक अन्य ऑलराउंडर के चोटिल होने से भी दुखी है। अब जबकि विश्वकप आयोजन अपने अंतिम पड़ाव तक पहुंच रहा है और अंतिम चार में आनेवाली टीमें आपस में गुत्थमगुत्था हैं ऐसे में टीम से अपने दिग्गजों के अलग होने पर गहरा संकट तो होना ही है। जी हां, वर्ल्ड कप के अहम मुकाबलों से पहले ऑस्ट्रेलिया को बड़ा झटका लगा है। टीम के खूंखार बल्लेबाज मिचेल मार्श अचानक घर लौट गए हैं। इंग्लैंड के खिलाफ मैच से पहले टीम को दोहरा झटका लगा है। पहले ग्लेन मैक्सवेल चोटिल होने के चलते इस मैच से बाहर हुए लेकिन अब मार्श घर लौट गए हैं। इस आयोजन में ऑस्ट्रेलिया ने खराब शुरुआत के बाद धमाकेदार वापसी की है और जीत की हैट्रिक लगा दी है। लेकिन अब एक के बाद एक टीम को दोहरे झटके लगे हैं। ऑस्ट्रेलिया का अगला मैच इंग्लैंड के खिलाफ होनेवाला है। इससे पहले ही मिचेल मार्श का घर लौटना टीम के लिए बुरी खबर है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने ट्वीट करते हुए इस बात की जानकारी दी है। ट्वीट में बोर्ड ने लिखा, ‘मिचेल मार्श पर्सनल कारणों के चलते घर लौट गए हैं।’ हालांकि, वह आगे टीम के साथ जुड़ेंगे या नहीं इसको लेकर कोई अपडेट नहीं दिया गया है।
शर्मा जी की भावभंगिमा
रोहित शर्मा कप्तानी में अलग ही झंडे गाड़ रहे हैं। वे न तो एकदम से कूल हैं, न ही एकदम से तेवर वाले। दरअसल, वे अपने साथी खिलाड़ियों की परवाह करनेवाले सबसे बड़े कप्तान हैं। मैदान पर हों या मैदान के बाहर रोहित अपने साथी खिलाड़ियों के साथ उनके सुख-दु:ख को बांटते नजर आते हैं। यह भी ऐसा कि उनकी भावभंगिमा देखकर लगे जैसे दर्द उनको ही हो रहा है। जी हां, इसका एक ताजा उदाहरण इन दिनों वायरल हो रहा है एक वीडियो क्लिप के जरिए। आपको याद होगा इंग्लैंड के खिलाफ जब मोहम्मद शमी की गेंद आग उगल रही थी तभी अचानक शमी की आंखों में कोई कीड़ा चला गया था। वे परेशान होने लगे थे। पहले तो रोहित ने खुद उसे निकालने की कोशिश की बाद में तुरंत डॉक्टर को बुलाया। जब डॉक्टर आकर शमी की आंख से कीड़ा निकाल रहा था रोहित के चेहरे के भाव उसे देखकर ऐसे बदल रहे थे मानो उनकी ही आंख से कीड़ा निकाला जा रहा हो। यह रोहित की दरियादिली भी है और दूसरों की पीड़ा को अनुभव करना भी है।

(लेखक वरिष्ठ खेल पत्रकार व टिप्पणीकार हैं।)

अन्य समाचार