मुख्यपृष्ठनए समाचारमानसून में न हो मुंबईकरों को टेंशन ..... ३१ मई से पहले...

मानसून में न हो मुंबईकरों को टेंशन ….. ३१ मई से पहले करो नालों की सफाई

सामना संवाददाता / मुंबई । महानगर मुंबई में मानसून के दौरान जलजमाव और अन्य समस्याओं से लोगों को टेंशन प्रâी करने के लिए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बुधवार को मनपा, म्हाडा, एमएमआरडीए, पुलिस, रेलवे आदि विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे प्री-मानसून की तैयारियों को लेकर अभी से काम पर लग जाएं। मुख्यमंत्री के निवास स्थान ‘वर्षा’ पर हुई संबंधित विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक में उन्होंने आदेश देते हुए कहा कि मुंबई में नालों की सफाई, सड़कों से मलबे को हटाने और परियोजना के अधूरे काम, समुद्री किनारों पर सुरक्षा व्यवस्था आदि कार्यों को युद्ध स्तर पर किए जाने की जरूरत है। आगामी ३१ मई तक सभी बचे हुए काम पूरा करने का अल्टीमेटम उन्होंने दिया है।
प्री-मानसून की तैयारियों को लेकर अधिकारियों की बैठक में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बुधवार को मौजूदा स्थिति का जायजा लिया और नालों की सफाई, सड़कों से मलबे को हटाने तथा मानसून से पहले कुछ परियोजनाओं को पूरा करने के लिए संबंधित विभाग की ओर से क्या कदम उठाए जा रहे हैं, इस पर चर्चा की और संबंधित विभागों को युद्ध स्तर पर काम करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि मानसून से पहले यह सभी काम २१ मई तक किसी भी कीमत पर पूरा करो।
इस मौके पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि मुंबई में ४५० जगहों पर मलबे जमा हैं, इसे जल्द हटाना होगा। नालों की साफ-सफाई समय पर जरूरी है। इसके साथ शहर के पूर्व और पश्चिम उपनगर में ४५ कलवर्ट यानी जल निकासी मार्ग हैं। रेलवे के ४० कलवर्ट हैं, इन सभी की समय से पहले साफ-सफाई करना जरूरी है। कांदिवली में मेट्रो परियोजना के तहत शुरू काम को और समुद्र किनारे सुरक्षा दीवारों के साथ अन्य कार्यों को तेजी से पूरा करने का निर्देश दिया। मुंबई में मेट्रो और अन्य सार्वजनिक कार्यों सहित सड़क के गड्ढे भरने सहित आदि कार्यों को मानसून से पहले निपटाने का उन्होंने निर्देश दिया।
बैठक में मुख्य सचिव मनु कुमार श्रीवास्तव, बृहन्मुंबई नगर आयुक्त इकबाल सिंह चहल, मुख्यमंत्री के प्रधान सलाहकार सीताराम कुंटे, मध्य रेलवे के महाप्रबंधक अनिल कुमार लाहोटी, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव आशीष कुमार सिंह, प्रमुख सचिव विकास खड़गे आदि शामिल थे।

मनपा ने दिया १६२ करोड़ का ठेका
महानगर में मानसून से पहले नालों से कचरे की सफाई और सड़कों से कूड़े-कर्कट को हटाने के लिए मनपा प्रशासन ने कुल ३० प्रस्ताव को मंजूरी दी है। इसके जरिए दोनों कार्यों के लिए कुल ५४५ करोड़ रुपए खर्च होंगे। बड़े नालों के लिए करीब ७१ करोड़ रुपए के कुल छह टेंडर स्वीकृत किए गए। छोटे नालों के लिए लगभग ९१ करोड़ रुपए की संयुक्त लागतवाली १७ निविदाओं को मंजूरी दी गई। छोटे नालों की सफाई निविदा में से २ निविदाएं शहरी क्षेत्र के लिए, ६ पूर्वी उपनगर के लिए और ९ पश्चिमी उपनगर में कार्यों के लिए स्वीकृत की जा चुकी हैं। बड़े और छोटे नालों से कचरा हटाने के लिए लगभग १६२ करोड़ रुपए के प्रस्तावों को प्रशासकों द्वारा मंजूर किया गया है।

अन्य समाचार