मुख्यपृष्ठनए समाचारसीएम-डीसीएम की क्राउड स्पेशल! ...भीड़ जुटाने में लगी एसटी बसें

सीएम-डीसीएम की क्राउड स्पेशल! …भीड़ जुटाने में लगी एसटी बसें

• छात्रों की पढ़ाई का हुआ नुकसान
सामना संवाददाता / मुंबई
कल शिर्डी में आयोजित एक कार्यक्रम में सीएम-डीसीएम ‘क्राउड स्पेशल’ चलाए जाने का मामला सामने आया है। इस कार्यक्रम में ज्यादा से ज्यादा भीड़ जुटाने के लिए एसटी बसें लगाई गर्इं, जिसके कारण नागरिकों सहित स्कूल-कॉलेज के छात्रों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।
सरकार की विभिन्न योजनाओं को घर-घर तक पहुंचाने के लिए ‘शासन आपल्या दारी’ (सरकार आपके द्वार) उपक्रम के तहत कल शिर्डी में कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, उपमुख्यमंत्री अजीत पवार आदि मंत्री उपस्थित होने वाले थे। इस कार्यक्रम में ३० हजार से अधिक लोगों की भीड़ जुटाने की योजना थी, लेकिन आस-पास के क्षेत्रों के लोगों में मुख्यमंत्री शिंदे के कार्यक्रम में जाने की रुचि नहीं थी। ऐसे में स्थानीय प्रशासन और महायुति के पदाधिकारियों ने भीड़ जुटाने के लिए एसटी सेवा का उपयोग किया, जिसके कारण कल एसटी सेवा आम लोगों के लिए बंद कर दी गई थी, जिससे स्कूल जाने वाले विद्यार्थियों और ग्रामीण नागरिकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। कई दिन बाद कल स्कूल खुले थे। विद्यार्थी अपने घर से निकलकर जब एसटी स्टैंड पहुंचे, तो वहां पर बोर्ड लगा था कि आज एसटी सेवाएं बंद हैं। यह बोर्ड देखकर विद्यार्थी और आम यात्री निराश हो गए।
राहुरी तालुका में पूर्व मंत्री, राकांपा नेता प्राजक्ता तनपुरे छात्रों की सहायता के लिए पहुंचे। उन्होंने बस का इंतजार कर रहे विद्यार्थियों को अपने वाहन से स्कूल छोड़ा। तनपुरे ने कहा कि सरकार की अतिरंजित पहल के कारण पूरे नगर जिले के लोगों और छात्रों को परेशानी हो रही है। कई छात्रों को पैदल स्कूल-कॉलेजों की ओर जाते देखा गया क्योंकि एसटी की सभी बसें मुख्यमंत्री की सेवा में लगाई गर्इं थीं। उन्होंने कहा कि सुनने में आया कि उक्त कार्यक्रम में भीड़ नहीं होने के कारण लोगों को दूर-दूर से लाना पड़ रहा था।

अन्य समाचार