मुख्यपृष्ठस्तंभकॉलम ३ : सार्थक है ट्विटर का नया रंग-ढंग

कॉलम ३ : सार्थक है ट्विटर का नया रंग-ढंग

अनिल तिवारी

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर को जब से एलन मस्क ने खरीदा है, तब से उन्होंने कई ऊट-पटांग फैसले लिए हैं। उनके इन फैसलों को लेकर वे लगातार ट्रोल भी होते रहे हैं, बावजूद इसके उन्होंने ट्विटर को लेकर बेझिझक अब तक का सबसे बड़ा और अहम फैसला कर डाला। उन्होंने एक झटके में ही ट्विटर का रंग और ढंग बदल दिया। उन्होंने ट्विटर की मासूम चिड़िया पर ‘एक्स’ से वार कर दिया। आंखों को सुकून देनेवाले आसमानी रंग को हटाकर काले रंग में बदल दिया तो भला गलत क्या किया?
लोग इस बदलाव के लिए एलन मस्क की चाहे जितनी आलोचना करें, पर यहां उन्होंने कुछ भी गलत किया हो, ऐसा नहीं लगता। जब से सोशल मीडिया पर ट्विटर का चलन शुरू हुआ है, तब से क्या यह प्लेटफॉर्म आलोचना, भड़ास और राजनैतिक छींटाकशी का माध्यम नहीं बना हुआ है? यदि कोई व्यक्ति गलती से भी कोई अच्छा संदेश या सकारात्मक पोस्ट कर दे, तब भी ट्रोलर्स उसमें मीन-मेख निकालने से बाज नहीं आते। ट्विटर पर एक बड़ा वर्ग है, बल्कि ये कहें कि एक ट्रोल आर्मी है, जिसे हर ट्वीट में खोट नजर आती है और आए भी क्यों नहीं? ट्विटर का काम ही वही है। यहां केवल भड़ास निकालने से कभी आगे बढ़कर कुछ सोचा ही नहीं गया। नया मालिक भी मिला तो वह केवल मुनाफे की सोचता रहा, असल मायने में रंग-ढंग बदलने पर विचार कभी हुआ ही नहीं। ट्विटर पर चंद शब्दों के ट्वीट हर दिन दुनिया भर में सामाजिक और राजनैतिक बवंडर मचाते रहते हैं, पर बहुत कम अवसरों पर ही उनका कोई सकारात्मक उपयोग जनता को नजर आता है। सही अर्थों में कहें तो ट्विटर इस युग में नकारात्मक मंच से ज्यादा कभी कुछ बन ही नहीं सका। ऐसे में ट्विटर की प्रवृत्ति से न तो मासूम चिड़िया की छवि मेल खा रही थी, न ही जीवन के प्रतीक आसमानी रंग की रंगत। उसकी छवि को एलन मस्क का दिया हुआ नया नकारात्मक ‘एक्स’ का साइन और अंधकार का प्रतीक काला रंग ही फब रहा है। ‘एक्स’ यानी क्रॉस का निशान ट्रोल आर्मी की आलोचनात्मक मानसिकता का प्रतीक नजर आता है तो इसका अंग्रेजी अर्थ, कुल्हाड़ी की तरह विचारों को काटना ही सार्थक बताता है। लिहाजा, यह कहना गलत नहीं है कि ट्विटर के ‘लोगो’ में वैâद मासूम चिड़िया को आजाद करके एलन मस्क ने सही अर्थों में ट्विटर को सही पहचान ही दिलाई है। लोग चाहे इसका कितना ही विरोध क्यों न करें, पर ट्विटर का नया ‘लोगो’ ही उसका शत-प्रतिशत प्रतिनिधित्व करता है और उसकी प्रवृत्ति को प्रतिबिंबित भी करता है।

अन्य समाचार