मुख्यपृष्ठखबरेंसंविधान को खत्म करने की भाजपा की साजिश! कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का...

संविधान को खत्म करने की भाजपा की साजिश! कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का आरोप

 महामानव को किया नमन
सामना संवाददाता / मुंबई। अंग्रेजों की गुलामी से मिली आजादी के बाद हमें मनुष्य के रूप में जीने का अधिकार डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर के संविधान ने दिया है। पूरे समाज को न्याय दिलाने और उनके अधिकारों की रक्षा का अधिकार भी हमें संविधान के माध्यम से मिला है, लेकिन जब से देश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार आई है, तब से संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर कर संविधान को खत्म करने की साजिश रची जा रही है। भाजपा पर यह आरोप प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने लगाया है। उन्होंने कहा कि देश में लोकतंत्र को बचाने के साथ-साथ बाबासाहेब द्वारा दिए गए संविधान की रक्षा करना हम सभी की जिम्मेदारी है।
डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर की १३१ वीं जयंती के अवसर पर गुरुवार को नाना पटोले ने दादर में चैत्यभूमि का दौरा कर महामानव को नमन किया। इस मौके पर स्कूली शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़, राज्य मंत्री डॉ. विश्वजीत कदम, मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष भाई जगताप, पूर्व मंत्री एवं प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष चंद्रकांत हंंडोरे, प्रदेश उपाध्यक्ष हुसैन दलवई, प्रदेश महासचिव देवानंद पवार, प्रमोद मोरे, राजन भोसले, राजेश शर्मा, मुनाफ हकीम, जो.जो. थॉमस, प्रकाश सोनवणे, पूर्व विधायक सुभाष चव्हाण, प्रवक्ता सुरेश चंद्र राजहंस, एनएसयूआई के संदीप पांडेय समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे। इस मौके पर मीडिया से बात करते हुए नाना पटोले ने कहा कि कुछ दल और संगठन समाज में जाति और धर्म का जहर घोलकर सामाजिक वातावरण को दूषित करने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारे देश में डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर के संविधान का पालन किया जाता है लेकिन कुछ लोग मनमाने ढंग से संविधान में हेरफेर कर रहे हैं। इस वजह से आज देश की आजादी और संविधान खतरे में है, इसे बचाना हम सबका कर्तव्य है।

अन्य समाचार