मुख्यपृष्ठनए समाचारकोरोना की जादुई गोली ने १७,००० को सुलाई मौत की नींद! ...एचसीक्यू...

कोरोना की जादुई गोली ने १७,००० को सुलाई मौत की नींद! …एचसीक्यू को लेकर स्टडी में हुआ खुलासा

एजेंसी / नई दिल्ली
कोरोना महामारी की वजह से लाखों लोगों की जान चली गई। ये महामारी फिर से नए वैरिएंट के रूप में पांव पसार रही है। शुरुआत में कोविड-१९ के मरीजों के इलाज में मलेरिया रोधी दवा एचसीक्यू का जमकर प्रयोग किया गया। इसे जादुई गोली तक कहा गया। अब इसको लेकर हिला देने वाला खुलासा हुआ है। इस जादुई गोली ने करीब १७,००० लोगों को मौत की नींद सुला दिया।
बता दें कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन (एचसीक्यू) मलेरिया की दवा है, जिसका इस्तेमाल कोविड-१९ के उपचार में भी बड़े पैमाने पर किया गया था। एक रिपोर्ट के अनुसार, प्रâांसीसी शोधकर्ताओं द्वारा किए गए एक अध्ययन में पाया गया है कि मार्च से जुलाई २०२० तक कोविड-१९ की पहली लहर के दौरान बीमारी के कारण अस्पताल में भर्ती मरीजों को एचसीक्यू दिए जाने के बाद छह देशों में लगभग १७ हजार लोगों की मृत्यु हो गई होगी।
बायोमेडिसिन एंड फार्माकोथेरेपी के फरवरी अंक में प्रकाशित शोध से पता चला है कि मौतों की संख्या में वृद्धि हृदय गति में निरंतरता की कमी और मांसपेशियों की कमजोरी जैसे दुष्प्रभावों के कारण हुई। इस अध्ययन में अमेरिका, तुर्की, बेल्जियम, प्रâांस, स्पेन और इटली जैसे देश शामिल थे। मिली जानकारी के अनुसार, अमेरिका में इस कारण सबसे अधिक १२,७३९ मौतें हुर्इं। इसके बाद स्पेन (१,८९५), इटली (१,८२२), बेल्जियम (२४०), प्रâांस (१९९) और तुर्की (९५) हैं। शोधकर्ताओं ने कहा कि मौतों की संख्या बहुत अधिक हो सकती है, क्योंकि उनके अध्ययन में मार्च और जुलाई २०२० के बीच केवल छह देशों को शामिल किया गया है। वैज्ञानिकों ने विभिन्न अध्ययनों का विश्लेषण किया, जिसमें कोविड-१९ के कारण अस्पताल में भर्ती होने और दवा के संपर्क और इससे संबंधित जोखिम पर नजर रखी गई।

अन्य समाचार