मुख्यपृष्ठनए समाचार‘दादा भुसे को ड्रग माफिया द्वारा खोके!’ -संजय राऊत

‘दादा भुसे को ड्रग माफिया द्वारा खोके!’ -संजय राऊत

गहन जांच करें
सामना संवाददाता / मुंबई

नासिक के शिंदे गांव एमआईडीसी में ड्रग माफिया ललित पाटील के भाई भूषण पाटील की फैक्ट्री से ३०० करोड़ रुपए का मेफेड्रोन ड्रग पुलिस ने जप्त किया है। फैक्ट्री को संरक्षक मंत्री दादा भुसे का आशीर्वाद प्राप्त था और इसके लिए उन्हें ड्रग माफिया से खोके मिल रहे थे, ऐसा सनसनीखेज आरोप शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) के सांसद संजय राऊत ने लगाया है। दादा भुसे की इस मामले में गहन जांच की जानी चाहिए, ऐसी मांग भी संजय राऊत ने की है।
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले और विधायक रवींद्र धांगेकर के साथ शिवसेना की उपनेता सुषमा अंधारे ने आरोप लगाया था कि ड्रग माफिया ललित पाटील और दादा भुसे के बीच संबंध हैं। पुख्ता सबूत न होने पर ये लोग इस तरह का गंभीर आरोप नहीं लगाएंगे, ऐसा विश्वास सांसद संजय राऊत ने कल मीडिया से बात करते हुए व्यक्त किया।
क्या अब मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और गृहमंत्री देवेंद्र फडणवीस इस मामले की जांच करेंगे? क्या इस ड्रग मनी से दादा भुसे को बड़ी आर्थिक मदद मिली? ललित पाटील मामले में दादा भुसे का क्या संबंध है? ललित पाटील ने दादा भुसे को अब तक कितने खोके दिए? क्या दादा भुसे बदले में ड्रग पैâक्ट्री को संरक्षण दे रहे थे? इस दौरान संजय राऊत ने सरकार पर सवालों की बौछार ही कर दी।
केंद्र से करेंगे शिकायत
राज्य का एक मंत्री ड्रग रैकेट में काम कर रहा है यह एक गंभीर बात है इसलिए हम इस मामले में केंद्रीय जांच एजेंसी, एंटी नारकोटिक्स कंट्रोल सेल और पुलिस में शिकायत दर्ज कराएंगे, ऐसा भी संजय राऊत ने कहा।
भुसे को इस्तीफा देना चाहिए…
ललित पाटील को घाती गुट के एक मंत्री ने अस्पताल से भागने में मदद की थी, ऐसा आरोप है। इस मामले में कई लोगों ने खुलेआम दादा भुसे का नाम लिया है इसलिए भुसे को मंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए, ऐसी मांग संजय राऊत ने की है।

अन्य समाचार