मुख्यपृष्ठनए समाचारबिहार के बोधगया पहुंचे दलाई लामा, कालचक्र मैदान में तीन दिन तक...

बिहार के बोधगया पहुंचे दलाई लामा, कालचक्र मैदान में तीन दिन तक देंगे उपदेश

अनिल मिश्र / पटना

गुरु दलाई लामा आज विशेष विमान से बिहार के गया एयरपोर्ट पहुंचे इसके बाद सड़क मार्ग से होते हुए बोधगया पहुंचे। इस अवसर पर बड़ी संख्या में सड़क किनारे खड़े होकर बौद्ध श्रद्घालुओं ने दलाई लामा का आज सुबह नौ बजे दर्शन किया। दलाई लामा बोधगया में करीब एक माह तक प्राचीन तिब्बती बौद्ध मठ में प्रवास करेंगे। 20 दिसंबर से 23 दिसंबर तक बोधगया के कालचक्र मैदान में बौद्ध धर्म गुरु दलाई लामा सुबह के समय उपदेश देंगे। इस कार्यक्रम में विभिन्न देशों के बौद्ध धर्म के विद्वान भाग लेकर अपने विचार रखेंगे। इस कार्यक्रम में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी आमंत्रित किया गया है।

इसके साथ ही 29 दिसंबर से 31 दिसंबर तक कालचक्र मैदान में ही दलाई लामा का प्रवचन का कार्यक्रम है। जिसमें देश व विदेश से लाखों लोगों के पहुंचने की उम्मीद है। 1 जनवरी को इसी कालचक्र मैदान में दलाई लामा की लंबी आयु के लिए विशेष पूजा अर्चना की जायेगी। बौद्ध धर्म गुरू दलाई लामा के बोधगया प्रवास को लेकर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दिए गए हैं। दलाई लामा तिब्बती बौद्ध मठ में जहां प्रवास कर रहे हैं वहां तिब्बती सरकार द्वारा सुरक्षा व्यवस्था अपने जिम्मे लिए गए है। वहीं तिब्बती बौद्ध मठ के बाहर बिहार पुलिस की विभिन्न अंगों द्वारा सुरक्षा का दायित्व दिए गए है। इस सुरक्षा व्यवस्था में झारखंड एटीएस का भी सहयोग लिया गया है।

गौरतलब है कि, बौद्ध धर्म गुरु दलाई लामा प्रति वर्ष दिसंबर माह में ज्ञान भूमि बोधगया में आकर अपने अनुयाई को भगवान बुद्ध के उपदेशों का संदेश देते रहे हैं। इस दौरान दिसंबर से मार्च महिना तक बोधगया विदेशी मेहमानों से गुलजार रहता है। साथ ही करोड़ों रुपये का कारोबार भी होता है।

अन्य समाचार