मुख्यपृष्ठनए समाचारबढ़ा खतरा दिल धड़कने दो... ९ महीनों में ५४ बच्चों की सफल...

बढ़ा खतरा दिल धड़कने दो… ९ महीनों में ५४ बच्चों की सफल हार्ट सर्जरी

सामना संवाददाता / ठाणे
ठाणे जिले में बच्चों में विभिन्न बीमारियों का प्रकोप बढ़ रहा है। इसी में ठाणे जिले में बच्चों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए स्वास्थ्य विभाग काम कर रहा है। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत आंगनवाड़ी स्तर पर ० से १८ वर्ष तक के सभी बच्चों की जांच की गई और इनमें से ५४ बच्चों में हृदय रोग पाया गया और जिला स्वास्थ्य विभाग ने सफलतापूर्वक हार्ट की सर्जरी की। सूत्रों ने बताया कि सबसे ज्यादा ० से ६ साल के बच्चों की ३६ सर्जरी की गर्इं।
बता दें कि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, जिला परिषद एवं जिला शल्यचिकित्सक के सहयोग से क्रियान्वित किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के तहत ० से १८ वर्ष तक के बच्चों की जांच की जाती है। विशेष रूप से, जिला परिषद स्कूलों आंगनवाड़ियों, निजी सहायता प्राप्त स्कूलों और नगरपालिका स्कूलों में छात्रों की स्वास्थ्य जांच की जाती है। इसके लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की ओर से जिले में ३२ टीमें नियुक्त की गई हैं। इस टीम में एक पुरुष डॉक्टर, एक महिला डॉक्टर, एक नर्स और एक दवा बांटने वाला शामिल है। बच्चों की तीन अलग-अलग चरणों में जांच की जाती है।
९८ हजार बच्चों की हुई जांच
राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत ० से १८ वर्ष तक के बच्चों की जांच की जाती है। इसके अनुसार, अप्रैल २०२३ से दिसंबर २०२३ की अवधि में दो लाख ९८ हजार ६३४ आंगनवाड़ियों और तीन लाख ८१ हजार १४ स्कूली विद्यार्थियों की स्वास्थ्य जांच का लक्ष्य रखा गया है। इनमें ० से ६ वर्ष आयु वर्ग के दो लाख ७९ हजार ४६९ बच्चों और ६ से १८ वर्ष आयु वर्ग के एक लाख ३५ हजार ४७५ स्कूली विद्यार्थियों की जांच की गई है। इसमें आंगनवाड़ी और स्कूली छात्रों के दोनों समूहों के ५४ बच्चों में हृदय संबंधी रोग पाए गए और उनका सफल कार्डियोलॉजी ऑपरेशन किया गया। इस बीच अप्रैल २०२३ से दिसंबर २०२३ तक राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत आंगनवाड़ी और स्कूल स्तर पर ० से १८ वर्ष तक के सभी बच्चों की स्वास्थ्य टीम द्वारा जांच की गई। जिन बच्चों की जांच की गई उनमें अन्य बीमारियां भी पाई गर्इं और उनमें से ३५६ बच्चों का हर्निया, बढ़े हुए अंडकोष, अपेंडिक्स, कटे तालु आदि जैसी विभिन्न बीमारियों के लिए ऑपरेशन किया गया, जिला स्वास्थ्य विभाग ने ऐसी जानकारी दी।

अन्य समाचार