मुख्यपृष्ठनए समाचारपुलिस पूछताछ में दरेकर के छूटे पसीने....पुलिस ने मोबाइल कराया बंद, तीन...

पुलिस पूछताछ में दरेकर के छूटे पसीने….पुलिस ने मोबाइल कराया बंद, तीन घंटे तक चली पूछताछ

सामना संवाददाता / मुंबई । मुंबई बैंक ‘जाली दस्तावेज’ मामले में सोमवार को मुंबई पुलिस ने भाजपा नेता प्रवीण दरेकर से तीन घंटे तक पूछताछ की है। पुलिस के सवालों से दरेकर के पसीने छूट गए। इस दौरान पुलिस ने दरेकर का मोबाइल भी बंद करा दिया था।
मुंबई बैंक ‘जाली दस्तावेज’ मामले में एमआरए मार्ग पुलिस ने प्रवीण दरेकर को समन भेजकर १४ मार्च को उनके खिलाफ दर्ज प्राथमिकी के मामले में सोमवार को पुलिस स्टेशन में आने को कहा था। दरेकर के खिलाफ ‘आप’ के नेता धनंजय शिंदे की शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गई थी। ‘आप’ नेता ने आरोप लगाया है कि भाजपा नेता ने मुंबई बैंक का निदेशक पद हासिल करने के लिए श्रम संगठन की फर्जी सदस्यता दिखाई थी।
शिंदे ने यह भी आरोप लगाया कि दरेकर ने खुद को कामगार दिखाकर और बैंक के श्रमिक कोटे के निदेशक पद का चुनाव लड़कर सरकार और बैंक के साथ धोखाधड़ी की है। ‘आप’ नेता की शिकायत पर दरेकर के खिलाफ धोखाधड़ी सहित भारतीय दंड संहिता की कई धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। इस मामले में नोटिस के बाद ही दरेकर कल साढ़े ११ बजे के करीब पुलिस स्टेशन पहुंचे।
दबाव बनाने की कोशिश
सूत्रों की मानें तो दरेकर का बयान तीन घंटे तक दर्ज किया। इस दौरान लगे आरोप पर पुलिस द्वारा किए जा रहे सवाल से वे काफी घबराए हुए थे। इस दौरान कई बार विरोधी पक्ष नेता होने का दबाव भी डालने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने इन सब की परवाह किए बिना ही मोबाइल बंद कराते हुए बयान दर्ज किया।

अन्य समाचार