मुख्यपृष्ठग्लैमरजानलेवा ‘जिम’! ...हालिया दिनों में कई सितारों को जिम करने के दौरान...

जानलेवा ‘जिम’! …हालिया दिनों में कई सितारों को जिम करने के दौरान पड़ा दिल का दौरा

मजबूत और स्वस्थ शरीर के लिए जिम जाना इन दिनों लोगों की आवश्यकता में शुमार हो गया है। हर जगह जिम खुल गए हैं। इन बड़े-बड़े वातानुकूलित जिम में एक्सरसाइज करने के तमाम यंत्र मौजूद रहते हैं। वहां ट्रेनर भी रहते हैं। एक मोटी फीस भरकर लोग वहां व्यायाम करते हैं। इससे शरीर स्वस्थ रहता है। मगर हाल के दिनों में कुछ ऐसी घटनाएं सामने आई हैं, जिसने यह सोचने पर मजबूर कर दिया है कि क्या प्रॉपर ट्रेनिंग के बगैर यंत्रों के सहारे एक्सरसाइज करना ठीक है? हाल ही में देश के मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव को जिम करने के दौरान दिल का दौरा पड़ा। दिल्ली के एक होटल में राजू श्रीवास्तव ठहरे हुए थे और होटल के जिम में वे अपना दैनिक एक्सरसाइज कर रहे थे। रिपोर्ट के अनुसार राजू ट्रेडमिल पर जब वॉकिंग कर रहे थे, उसी दौरान उन्हें दिल का दौरा पड़ा और वे गिर गए। इसके पहले मशहूर एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला के साथ भी ऐसा ही वाकया हुआ था। जिम के बाद ही उन्हें तकलीफ हुई और दिल का दौरा पड़ा। सिद्धार्थ शुक्ला की जान चली गई। साउथ के मशहूर एक्टर पुनीत राजकुमार भी अच्छे-खासे चलते-फिरते व्यक्ति थे। उन्हें भी जिम के बाद दिल का दौरा पड़ा और उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। मशहूर पूर्व क्रिकेटर सौरव गांगुली तो एक स्पोर्ट्स मैन रहे हैं। मगर उन्हें भी दिल के दौरे का सामना करना पड़ा और वह भी तब जब वे जिम में थे। इनके अलावा और भी कई हस्तियां हैं, जिन्हें जिम के दौरान ही दिल का दौरा पड़ा या जिम करने के कुछ घंटे बाद उन्हें तकलीफ हुई। जरा सोचिए हमारे आसपास न जाने कितने ऐसे व्यक्ति होंगे, जिन्हें जिम के बाद इस तरह की सिचुएशन से गुजरना पड़ता होगा और उनमें से कई की जान चली जाती होगी। चूंकि वे मशहूर हस्तियां अथवा सितारे नहीं होते इसलिए उनके बारे में कोई खबर नहीं आती।
तो क्या जिम से दिल के दौरे का कोई सीधा संबंध है? यह सवाल अक्सर लोगों के जेहन में कौंध रहा है। इस बारे में डॉक्टर्स का कहना है कि व्यायाम सही प्रशिक्षक की देखरेख में ही किया जाना चाहिए। साथ ही जिम करनेवाले को अपना फिटनेस चेक और हेल्थ चेकअप भी करवाना चाहिए, ताकि उसके दिल का हाल पता चल सके। क्योंकि जब हम एक्सरसाइज करते हैं तो हमारे शरीर में ऊर्जा की आवश्यकता बढ़ जाती है और कोशिकाओं को यह ऊर्जा रक्त से मिलती है। इसलिए शरीर के भीतर ब्लड प्रेशर या खून का संचार बढ़ जाता है। ऐसे में दिल को भी पंपिंग करने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। और अगर दिल कमजोर हुआ तो वह फेल हो सकता है। यदि दिल के आस-पास ब्लॉकेज है तो ब्लॉकेज फटने से दिल का दौरा पड़ सकता है। विशेषज्ञों के अनुसार जिम करने से दिल का दौरा पड़ने का कोई सीधा संबंध नहीं है। सीधे शब्दों में कहें तो आपके दिल की जो कंडीशन है उसके अनुसार ही व्यायाम करना चाहिए। अगर किसी की उम्र ५० है तो उसके दिल की धड़कन १७० से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। ऐसे में अगर किसी ने ज्यादा एक्सरसाइज कर ली और उसकी धड़कन २०० हो गई तो खतरा हो सकता है। जानकार बताते हैं कि अगर दिन में आप ५ किमी पैदल चलते हैं, थोड़ा-सा प्राणायाम करते हैं और हल्का-फुल्का योग करते हैं तो जिम के कठोर मशीनी व्यायाम करने की जरूरत नहीं है। खैर, यह सब सुझाव है, पर यदि आपको स्वस्थ रहना है तो डॉक्टर के पास जाकर सही तरीके से अपना हेल्थ चेकअप करवाइए व उनका मार्गदर्शन लेकर ही व्यायाम करें तो बेहतर होगा।

अन्य समाचार