मुख्यपृष्ठनए समाचारदिल्ली बन रहा 'उड़ता पंजाब'!

दिल्ली बन रहा ‘उड़ता पंजाब’!

सामना संवाददाता / नई दिल्ली

१२ किलो गांजा, ६० ग्राम विदेशी ड्रग्स बरामद

नोएडा पुलिस ने एक ड्रग रैकेट का पर्दाफाश किया है। एमिटी यूनिवर्सिटी के पास ड्रग के रैकेट का भंडाफोड़ किया गया है। पुलिस ने विदेशी गांजा और चरस के साथ पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि यह गिरफ्तारी दो महीने पहले नवंबर में नौ आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पूछताछ के दौरान मिले सुराग के बाद हुई है। पुलिस और आरोपियों को तलाश कर रही है। इसी के सााथ ही यहां अब नशे का कारोबार खूब फल-फूल रहा है। ऐसे में नोएडा अब धीरे-धीरे `उड़ता पंजाब, बनता जा रहा है।
हैरानी की बात ये है कि ड्रग की तस्करी में पकड़े गए सभी आरोपी बड़े शैक्षणिक संस्थानों से हैं। यानी ड्रग माफिया दिल्ली-एनसीआर में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को गिरफ्त में ले रहे हैं। इस मामले में पुलिस ने एमिटी यूनिवर्सिटी के छात्र सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से देशी एवं विदेशी ड्रग बड़ी मात्रा में मिले हैं। ऐसा नहीं है कि एमिटी यूनिवर्सिटी के पास ड्रग सप्लाई के गिरोह का भंडाफोड़ की यह पहली वारदात है। इसके पहले भी एमिटी यूनिवर्सिटी में ड्रग गिरोह के खुलासे हो चुके हैं। पुलिस उपायुक्त के मुताबिक, `पिछले मामले में गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ की थी। आरोपियों से पूछताछ के बाद मिले सुराग के आधार पर पुलिस ने जाल बिछाया था।’ गिरफ्तार किए गए आरोपियों में सागर बीकॉम पासआउट है, वहीं चेतन एमिटी यूनिवर्सिटी का छात्र बताया जा रहा है। गिरोह को संचालित करने के लिए फ्लिपकार्ट, अमेजन के रैपर में ड्रग्स भरकर स्टूडेंट्स के रूम तक डिलिवरी की जाती है। पॉर्टर एप पर लेते थे ऑर्डर। आरोपियों के पास से १३ किग्रा. गांजा, ६० ग्राम विदेशी ड्रंग्स, ७ मोबाइल, लैपटॉप रिकवर हुआ है।

अन्य समाचार