मुख्यपृष्ठनए समाचारएक के बदले १२ सिर कलम की मांग : धारा ३७० हटने...

एक के बदले १२ सिर कलम की मांग : धारा ३७० हटने के बाद भी हालातों में कोई खास बदलाव नहीं: साहनी

जम्मू। शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) जम्मू-कश्मीर इकाई ने कश्मीर के पिछले ४८ घंटों में कश्मीर के अनंतनाग व जम्मू संभाग के राजौरी में सेना के कर्नल, मेजर तथा जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक डीएसपी समेत पांच जवानों व एक एसपीओ की शहादत पर कड़ा रोष जताया है। प्रदेश प्रमुख मनीष साहनी ने मोदी सरकार से आतंकवाद के आका पाकिस्तान पर जोरदार सैन्य प्रहार करने तथा एक के बदले १२ सिर कलम करने की मांग की है। शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने के बाद मनीष साहनी ने कहा कि आखिर कब तक हम अपने जवानों की शहादत को सहेंगे। जम्मू कश्मीर में आतंकवादी हमारे जवानों और आम लोगों पर हमले कर रहे हैं। मोदी सरकार द्वारा धारा ३७० हटाने के बाद भी अमन-चैन कायम नहीं है। उन्होंने कहा कि २०१४ से अब तक आतंकी हमलों में शहीद होने वाले जवानों की संख्या में ९३ फीसदी का इजाफा हुआ है। पांच सालों में जम्मू-कश्मीर में आतंकी घटनाओं में १७६ फीसदी का इजाफा हुआ है। पुंछ और राजौरी जिलों में दो साल से भी कम समय में आतंकी हमलों में सेना के २३ जवान शहीद हो गए।

अन्य समाचार