मुख्यपृष्ठटॉप समाचारमुंबई के बाहर बढ़ी म्हाडा घरों की डिमांड!...पुणे-ताथवड़े मुंबई का सेकेंड होम...

मुंबई के बाहर बढ़ी म्हाडा घरों की डिमांड!…पुणे-ताथवड़े मुंबई का सेकेंड होम २२ अप्रैल को निकलेगी लॉटरी

सामना संवाददाता / मुंबई। मुंबई में म्हाडा के घरों के इंतजार में बैठे लोगों का झुकाव अब पुणे में बने म्हाडा के किफायती व आलीशान मकानों की ओर बढ़ा है। बाजार भाव की अपेक्षा १२ से १५ लाख कम कीमत में सर्व सुविधायुक्त पुणे हाइवे से सटे ताथवडे पर मुंबईकर अपना सेकेंड होम के तौर पर देख रहे हैं। गुड़ीपाडवा पर अपने सपनों का घर साकार करने के लिए म्हाडा के इस प्रोजेक्ट को अवलोकन करने अधिकांश मुंबईकरों का तांता लगा हुआ है। म्हाडा अपने प्रोजेक्ट के पहले फेस के ६८० आलीशान घरों के साथ साथ दुकानें-कार्यालय, व्यापारी संकुल की लॉटरी २२ अप्रैल को निकालेगी। इन घरों का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन जारी है, जिसकी अंतिम तारीख ३१ मार्च है।
मुंबई में म्हाडा के घरों को पाने के लिए लोगों को लंबा इंतजार करना पड़ रहा है। पहले म्हाडा के घरों की गुणवत्ता को लेकर लोग नाखुश थे लेकिन अब परिस्थितियां बदल गई हैं। घरों की गुणवत्ता में आए सुधार और न्यू टेक्नोलॉजी से बने घरों की डिमांड मुंबई के साथ-साथ पुणे, नासिक, नागपुर, सांगली, कोल्हापुर, पिंपरी-चिंचवड़ में बने घरों की मांग बढ़ गई है। पिछले वर्ष म्हाडा ने इन्हीं जिलों में बने साठ हजार से अधिक घर बेच चुकी है, जिनमें मुंबई के अधिकांश लोगों ने घर लिया है।
कोरोना से त्रस्त लोगों को महाविकास आघाड़ी सरकार ने सहूलियत के साथ-साथ घरों की खरीददारी के नियम और शर्तों में थोड़ी शिथिलता लाई है, ताकि आम नागरिक गुणवत्तायुक्त घर खरीद सकें। इस लॉटरी में पिंपरी-वाघिरे के उच्च श्रेणी के १०३ घर हैं, जिसकी कीमत ७४,६८,४०९ लाख है, इसमें तीन बेड रूम हैं और मध्यम श्रेणी के २३२ घर हैं, इसकी कीमत ५५,६२,५०० है। इन मकानों के साथ म्हाडा के ड्रीम प्रोजेक्ट पुणे-ताथवडे के घर की कीमत ६८ लाख है, जिसका एरिया ८५१ फुट है। लोगों के आकर्षण का मुख्य कारण हाईवे से सटे होने के साथ-साथ डी वाई पाटील कॉलेज, अनेक इंजीनियरिंग कॉलेज, आकुर्दी रेलवे स्टेशन, आईटी पार्क, एजुकेशन हब के बीच घिरा है साथ ही अपने प्रोजेक्ट में गार्डन, प्ले एरिया, क्लब हाउस प्रत्येक घरों के लिए पार्किंग, आधूनिक अग्निशमन प्रणाली, बेहतर सड़कें कनेक्टिविटी के लिए पर्याप्त साधनों कीr सुविधा म्हाडा ने दी है।
पुणे म्हाडा बोर्ड के मुख्याधिकारी नितिन माने ने कहा कि सैंपल फ्लैट देखकर लोग खुश हैं। कम कीमत में बड़े एरिया का घर खरीदने को लोग लालायित हैं। हम आगे भी इसी तरह लोगों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए घर बनाएंगे।

अन्य समाचार

ऊप्स!