मुख्यपृष्ठनए समाचारविधानसभा करो भंग...हो जाने दो आर-पार! आदित्य ठाकरे की `ईडी' सरकार को...

विधानसभा करो भंग…हो जाने दो आर-पार! आदित्य ठाकरे की `ईडी’ सरकार को खुली चुनौती

  1. पूरे महाराष्ट्र में कराओ चुनाव

सामना संवाददाता / मुंबई
चलो ४० विधायक इस्तीफा दें, मैं भी देता हूं। हम चुनाव लड़ते हैं। मैं तो कहता हूं कि विधानसभा भंग करो। पूरे महाराष्ट्र में चुनाव कराओ और हो जाने दो आर-पार, फिर देखते हैं किसकी लोकप्रियता ज्यादा है! शिवसेना नेता व युवासेना प्रमुख आदित्य ठाकरे ने कल इन शब्दों में शिंदे-फडणवीस की ‘ईडी’ सरकार को खुली चुनौती दी। विपक्ष द्वारा मानसून सत्र के आखिरी दिन भी विधानभवन की सीढ़ियों पर विपक्ष ने राज्य सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया। विपक्ष का ‘पचास खोके, एकदम ओके’ का नारा छाया रहा। जनहित के ज्वलंत मुद्दों को लेकर विपक्ष काफी आक्रामक रहा, जिससे सत्ता पक्ष के विधायक बौखलाए नजर आए। इस बीच शिंदे समर्थक विधायकों ने गले में पोस्टर लटकाकर विधानभवन की सीढ़ियों पर आदित्य ठाकरे को टार्गेट करते हुए नारेबाजी की। इसके बाद आदित्य ठाकरे ने मीडिया को संबोधित करते हुए इन बागी विधायकों पर निशाना साधा

गावित पर भड़के आदित्य ठाकरे
मानसून सत्र के आखिरी दिन भी विपक्ष ने राज्य में कुपोषण के मुद्दे को लेकर राज्य सरकार को जमकर घेरा। आदिवासी कल्याण मंत्री विजय कुमार गावित के अजब-गजब जवाब से असंतुष्ट विपक्ष ने सदन में जमकर हंगामा किया। दरअसल, गावित ने कहा कि राज्य में कुपोषण से एक भी मौत नहीं हुई है। इस पर शिवसेना विधायक आदित्य ठाकरे ने जोरदार आपत्ति जताई और कहा कि ७५ साल बीत जाने के बाद भी आदिवासी इलाकों की स्थिति देखकर राजनेता के तौर पर शर्म आनी चाहिए। आदिवासी कल्याण मंत्री से इस तरह की उम्मीद नहीं थी। इस बीच सत्ता पक्ष ।

अन्य समाचार