मुख्यपृष्ठनए समाचारडीजे वाले बाबा जरा गाना बजा दो! ... म्यूजिक से करता था...

डीजे वाले बाबा जरा गाना बजा दो! … म्यूजिक से करता था बीमारी का इलाज!

• तांत्रिक के खिलाफ मामला दर्ज
• धर्म परिवर्तन में लिप्त रहने का संदेह
सामना संवाददाता / मुंबई
आज की २१वीं सदी में भी देश के अनेक लोग अंधविश्वास पर यकीन करते हैं। ऐसे में लोग अक्सर बाबाओं, साधुओं, तांत्रिकों के बहकावे में आकर इज्जत, धन, गवां बैठते हैं। बता दें कि किडनी की बीमारी को डीजे की धुन पर तंत्र-मंत्र से ठीक करने का दावा करनेवाले एक युवक के खिलाफ पुलिस ने शिकायत दर्ज की है। दरअसल युवक ने दावा किया कि उसके भीतर दैवीय शक्ति है। उसकी मदद से वह किसी भी खतरनाक बीमारी ठीक कर सकता था। वसई- विरार शहर सहित दूर-दराज के लोग इसके झांसे में आ गए, जिनसे वह पैसे की उगाही करता था। पुलिस को संदेह है कि वह इलाज के नाम पर धर्म परिवर्तन का भी काम करता था। फिलहाल पुलिस ने डीजेवाले तांत्रिक के खिलाफ नोटिस जारी किया है।
शिकायतकर्ता राजेश पाल ने बताया कि तांत्रिक नालासोपारा पूर्व नागिनदास पाड़ा स्थित बिल्डिंग के अंडरग्राउड में किराए की एक बड़ी दुकान में जादू-टोना का कारोबार चलाता था। वह लोगों को किडनी सहित अन्य बीमारियों को चमत्कारी तरीके से ठीक करने का दावा करता है। वह हर महीने सैकड़ों लोगों को ठगी का शिकार बनाता है। इस पूरे रैकेट को पंजाब से ऑपरेट किया जाता है, जिसकी शिकायत पुलिस थाने में दर्ज कराई गई है।
गौरतलब है कि तुलिंज पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक राजेंद्र कांबले ने बताया कि शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने आरोपी के पास से सैकड़ों वीडियो जप्त किए हैं, जिसमें वह सॉन्ग चलाकर लोगों का इलाज करता था। फिलहाल पुलिस जादू-टोना के तहत शिकायत दर्ज कर जांच में जुट गई है।

अन्य समाचार