मुख्यपृष्ठसमाचारआतंक का राज, डोंगल करेगा पर्दाफाश!

आतंक का राज, डोंगल करेगा पर्दाफाश!

 एटीएस के हाथ लगा मुर्तजा का डोंगल
 आतंकी संगठन से करता था संपर्क
सामना संवाददाता / गोरखपुर। गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा में तैनात पीएसी जवानों पर हमला करने वाले अहमद मुर्तजा अब्बासी के कमरे से एटीएस ने उसका वो डोंगल बरामद कर लिया है, जिसके जरिए वह विदेश में बैठे अपने आकाओं के संपर्क में था। कमरे की अलमारी में छिपाकर रखे गए डोंगल को बरामद कर अब एटीएस डोंगल के आईपी एड्रेस (इंटरनेट प्रोटोकॉल) के जरिए उसके आतंक के राज का पर्दाफाश करने में लगी है। फिलहाल एटीएस उसे गोरखपुर में ही रखकर पूछताछ कर रही है, साथ ही उसे लेकर उसके सभी ठिकानों की भी छानबीन कर रही है, जहां वह घटना के पहले गया था।
एटीएस को है ठोस सबूत का इंतजार
एटीएस अब तक मुर्तजा के संपर्क में रहे लोगों और उसके परिवार के बयानों के साथ ही मुर्तजा के बयान की कड़ियां भी जोड़ने लग गई है। ताकि जल्द से जल्द वह किसी नतीजे तक पहुंच सके। हालांकि सूत्रों का दावा है कि मुर्तजा ने अपने गुनाह तो कबूल कर लिए हैं, उसके पास से एटीएस को कई सबूत भी हाथ लगे हैं। एटीएस उसके संपर्क में रहे लोगों को भी हिरासत में लेकर भी पूछताछ कर रही है।
बयानों की कड़ियां जोड़ रही एटीएस
इतना ही नहीं एटीएस को जल्द ही मुर्तजा के पास से बरामद मोबाइल, लैपटॉप और अन्य चीजों की फॉरेंसिक रिपोर्ट भी मिल जाएगी। इससे इस केस की ​कड़ियां जुड़ने में मदद मिल सकती हैं। वहीं दूसरी ओर मुर्तजा के माता- पिता से एटीएस की दूसरी टीम लखनऊ में पूछताछ कर रही है। अब एटीएस टीम अब तक सामने आए बयानों और सबूतों का मिलान कर किसी निष्कर्ष तक पहुंचने में लगी है। हालांकि अगर १६ अप्रैल तक इस मामले की जांच पूरी नहीं हुई तो एक बार फिर कोर्ट में मुर्तजा की पुलिस रिमांड बढ़ाने की अर्जी दे सकती है। जबकि पूरी उम्मीद है कि इसी दौरान एटीएस मुर्तजा के खिलाफ ठोस सबूत जुटाकर कोर्ट में पेश कर देगी।
परिवार की निकाली जा रही कुंडली
जांच कर रही एटीएस मुर्तजा और उसके परिवार से जुड़े हर एक की कुंडली खंगालने में लगी है। एटीएस यह भी जानना चाहती है कि पिता के रैंकिंग की प्रताड़ना के दावों के अलावा ऐसी क्या वजह हो सकती है, जिससे कि मुर्तजा पढ़ाई छोड़ देश विरोधी गतिविधियों में शामिल हो गया।

 

अन्य समाचार